केंद्र सरकार ने PM Ujjawala Yojna उज्ज्वला योजना की मियाद बढ़ा दी है और अब इसके बाद अब 30 सितंबर तक इस योजना के लाभार्थी मुफ्त सिलेंडर पा सकेंगे। हालांकि, इसकी भी कुछ शर्ते हैं। केंद्र सरकार द्वारा यह राहत इस साल अप्रैल में लॉकडाउन के बाद शुरू की थी जिसकी अवधि 30 जून को खत्म हो गई थी। अब इस राहत को आगे बढ़ाया गया है। जहां इस योजना का फायदा देश की करोड़ों महिलाएं उठा रही हैं वहीं कई ऐसे भी हैं जिन्हें इस योजना के तहत मिलने वाली आर्थिक मदद या सबसिडी नहीं मिल पा रही है। अगर आप भी उनमें से हैं तो हम आपको बताते हैं कि कैसे आप इसका फायदा ले सकते हैं और कहां शिकायत दर्ज करवा सकते हैं।

इन्हें मिलता है फायदा

इस योजना का लाभ वो लोग ले सकते हैं जो गरीबी रेखा के नीचे आते हैं। योजना के तहत 8 करोड़ BPL परिवारों को मुफ्त गैस कनेक्शन देने का लक्ष्य है। इस योजना का फायदा उन्हें मिलेगा जो SECC-2011 में शामिल हैं। साथ ही आवेदन करने वाली महिला होनी चाहिए जिसकी उम्र कम से कम 18 साल हो। उसका अकाउंट किसी नेशनल बैंक में होना जरूरी है।

नहीं मिल रहा लाभ तो क्या करें

अगर आपको भी प्रधानमंत्री उज्जलवला योजना के तहत सबसिडी नहीं मिल रही है तो आप इसकी शिकायत कर सकते हैं। इसके लिए टोल फ्री नंबर 1906 दिया गया है। यह नंबर 24 घंटे चालू रहता है। इसके अलावा 18002666696 नए नंबर को प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना कनेक्शन के बारे में पूछताछ के लिए विशेष रूप से जारी किया गया है। इस नंबर पर आप कॉल करके अपनी किसी भी समस्या का समाधान कर सकते हैं। इसकी खास बात यह है कि इस पर आपको आपकी भाषा में सहायता मिल जाती है। साथ ही यह भी देखें कि आपको इस योजना का फायदा क्यों नहीं मिल रहा जिसके लिए संबंधित एजेंसी में जाकर आप बात कर सकते हैं।

योजना का फायदा लेने के लिए आधार कार्ड के अलावा राशन कार्ड के अलावा 14 पॉइंट का घोषणा पत्र भी देना होता है। अगर इनमें से कोई भी कागज आपना जमा नहीं करवाया है तो भी आप इस योजना का फायदा नहीं ले सकेंगे। अगर आपके अकाउंट में सबसिडी की रकम आने का मैसेज नहीं मिल रहा तो आपको बैंक जाकर चेक करना होगा कि आपका आधार नंबर आपके बैंक अकाउंट से लिंक है या नहीं। अगर ऐसा है तो फिर आप अपने रजिस्टर्ड नंबर को चेक करें।

इसके अलावा ग्राहकों को अपनी शिकायतें/प्रश्नों को सुविधाजनक, आसान और प्रभावी तरीके से बताने हेतु ओएमसी द्वारा टोल फ्री नंबर 18002333555 चालू है।

Posted By: Ajay Kumar Barve

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस