नई दिल्ली। स्विट्जरलैंड के अधिकारियों ने नीरव मोदी और उसकी बहन पूर्वी मोदी के चार स्विस खातों को फ्रीज कर दिया है। ईडी ने मुंबई की एक अदालत में दाखिल किए गए अपने आरोप पत्र में पूर्वी मोदी का नाम भी आरोपी के रूप में शामिल किया है। आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि वर्तमान में इन खातों में कुल 283.16 करोड़ रुपए जमा हैं।

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के अनुरोध पर स्विट्जरलैंड के अधिकारियों ने इन बैंक खातों को फ्रीज कर दिया है। आधिकारिक सूत्रों ने यह जानकारी दी। भारत में नीरव मोदी के खिलाफ चल रहे आपराधिक मनी लॉन्ड्रिंग मामले में ये कार्रवाई की गई है। सूत्रों के मुताबिक, बैंक धोखाधड़ी मामले में लंदन में गिरफ्तार नीरव मोदी के खाते में तीन करोड़ 74 लाख 11 हाजर 596 डॉलर जमा हैं, जबकि उसकी बहन पूर्वी मोदी के खाते में 27 लाख 38 हजार 136 ब्रिटिश पौंड जमा हैं।

अधिकारियों के मुताबिक, कुल जमा राशि करीब 283.16 करोड़ रुपए है। इस बात की उम्मीद है कि केंद्रीय जांच एजेंसी अब पीएमएलए के तहत इन बैंक खातों को कुर्क करने की दिशा में कदम उठाएगी। बताते चलें कि नीरव मोदी 14 हजार करोड़ रुपए से अधिक के पीएनबी धोखाधड़ी मामले में मुख्य आरोपी है। ईडी ने कहा कि दोनों ने भारत में बैंक धोखाधड़ी से अर्जित राशि इन बैंक खातों में जमा कराई थी। उसके मुताबिक, ईडी ने कुछ समय पहले स्विस अधिकारियों से इस संबंध में अनुरोध किया था और प्रिवेंशन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट के प्रावधानों के तहत आधिकारिक तौर पर अनुरोध भेजा था।

लंदन में हो रही है सुनवाई

उधर, लंदन में नीरव मोदी की गुरुवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए कोर्ट में सुनवाई होगी। वेस्टमिंस्टर मजिस्ट्रेट अदालत में नीरव के मामले की सुनवाई के लिए तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। इस महीने की शुरुआत में नीरव ने ब्रिटेन के हाईकोर्ट में एक बार फिर जमानत की अर्जी लगाई थी, जिसे कोर्ट ने खारिज कर दिया था। इसके बाद अदालत में उसकी पहली बार पेशी होने वाली है।

Posted By: Shashank Shekhar Bajpai

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना