नई दिल्ली। दुनिया के 20 सर्वाधिक प्रदूषित शहरों में से 15 भारत के हैं। गुरुग्राम, गाजियाबाद, फरीदाबाद, नोएडा और भिवाड़ी शीर्ष छह प्रदूषित शहरों में शामिल हैं। यह बात एक नए अध्ययन में कही गई है। अध्ययन के आंकड़ों के अनुसार राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) पिछले साल विश्व में सर्वाधिक प्रदूषित क्षेत्र के रूप में उभरा। नवीनतम डाटा आइक्यूएअर एअरविजुअल-2018 वर्ल्ड एअर क्वालिटी रिपोर्ट में संकलित हैं।

रिपोर्ट ग्रीनपीस साउथईस्ट एशिया के सहयोग से तैयार की गई है। रिपोर्ट में कहा गया कि विश्व के 20 सर्वाधिक प्रदूषित शहरों में से 18 भारत, पाकिस्तान और बांग्लादेश के हैं। दुनिया के इन 20 शहरों में से 15 भारत के हैं। गुरुग्राम और गाजियाबाद सर्वाधिक प्रदूषित शहर हैं। इसके बाद फरीदाबाद, भिवाड़ी और नोएडा भी शीर्ष छह प्रदूषित शहरों में शामिल है।

राजधानी दिल्ली 11वें नंबर पर है। कभी दुनिया के सर्वाधिक प्रदूषित शहरों में शामिल रही चीन की राजधानी बीजिंग पिछले साल सर्वाधिक प्रदूषित शहरों की सूची में 122वें नंबर पर थी, लेकिन यह अब भी विश्व स्वास्थ्य संगठन की वार्षिक सुरक्षित सीमा से कम से कम पांच गुना अधिक प्रदूषित शहर है। तीन हजार से अधिक शहरों में प्रदूषक कण (पीएम) 2.5 के स्तर को भी दर्शाने वाला डाटाबेस एक बार फिर वायु प्रदूषण से विश्व के खतरे की याद दिलाता है।

इससे पहले पिछले साल विश्व स्वास्थ्य संगठन के वायु गुणवत्ता डाटाबेस ने भी स्थिति को लेकर आगाह किया था। रिपोर्ट में परिवेशी वायु प्रदूषण के कुछ बड़े स्रोतों और कारणों की पहचान की गई है। इसमें कहा गया है, 'उद्योगों, घरों, कारों और ट्रकों से वायु प्रदूषकों के जटिल मिश्रण निकलते हैं, जिनमें से अनेक स्वास्थ्य के लिए खतरनाक हैं।

इन सभी प्रदूषकों में से सूक्ष्म प्रदूषक कण मानव स्वास्थ्य पर सर्वाधिक प्रभाव डालते हैं।' ग्रीनपीस इंडिया से जुड़ी कार्यकर्ता पुजारिनी सेन ने कहा कि रिपोर्ट हमें अदृश्य प्रदूषक तत्वों को कम करने की दिशा में हमारे प्रयासों के बारे में याद दिलाती है।

Posted By:

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020