Udit Raj on Draupadi Murmu: कांग्रेस नेता उदित राज की राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू पर की गई टिप्पणी से विवाद खड़ा हो गया है। भाजपा हमलावर है और उदित राज के बयान को आदिवासियों के खिलाफ कांग्रेस की मानसिकता से जोड़ दिया है। भाजपा प्रवक्ता राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू के खिलाफ कांग्रेस नेताओं की पुरानी टिप्पणियां भी याद दिला रहे हैं। वहीं उदित राज को अपने बयान पर जरा भी पछतावा है। उनकी दलील है कि उन्होंने उक्त टिप्पणी देश की प्रथम महिला को लेकर नहीं, बल्कि एक आदिवासी महिला के रूप में द्रौपदी मुर्मू पर की थी। पूरे मामले में राष्ट्रीय महिला आयोग (एनसीडब्ल्यू) एक्शन में आ गया है। महिला आयोग ने उदित राज को तलब कर लिया है।

Udit Raj on Draupadi Murmu: क्या कहा था उदित राज ने

कांग्रेस नेता उदित राज ने ट्वीट किया, 'द्रौपदी मुर्मू जी जैसा राष्ट्रपति किसी देश को न मिले। चमचागिरी की भी हद्द है। कहती हैं 70% लोग गुजरात का नमक खाते हैं। खुद नमक खाकर जिंदगी जिएं तो पता लगेगा।'

Image

इस पर भाजपा भड़क गई। पार्टी प्रवक्ता संबित पात्रा ने ट्वीट किया, कांग्रेस नेता उदित राज द्वारा राष्ट्रपति मुर्मू के लिए इस्तेमाल किए गए शब्द चिंताजनक, दुर्भाग्यपूर्ण हैं। यह पहली बार नहीं है जब उन्होंने इस तरह के शब्दों का इस्तेमाल किया है। कांग्रेस के अधीर रंजन चौधरी ने भी किया था। यह उनकी आदिवासी विरोधी मानसिकता को दर्शाता है।

वहीं भाजपा प्रवक्ता शहजाद पूनावाला ने लिखा, पहले कांग्रेस नेता अजय कुमार ने राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू को बुरा कहा, फिर अधीर रंजन चौधरी ने अपशब्दों का इस्तेमाल किया, अब कांग्रेस एक नए निचले स्तर पर पहुंच गई है। पहली महिला आदिवासी राष्ट्रपति के लिए उदित राज ने किया अस्वीकार्य भाषा का इस्तेमाल किया है। क्या कांग्रेस आदिवासी समाज के इस अपमान का समर्थन करती है?

बहरहाल, कांग्रेस की ओर से कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है। पार्टी के अधिकांश नेता राहुल गांधी की भारत जोड़ों यात्रा में व्यस्त हैं। वहीं उदित राज अपने बयान पर कायम है।

Posted By: Arvind Dubey

Assembly elections 2021
elections 2022
  • Font Size
  • Close