Presidential Elections 2022 Live Updates: देश के 15वें राष्ट्रपति के चुनाव के लिए मतदान संपन्न हो गया है। राष्ट्रपति चुनाव में जमकर क्रॉस वोटिंग हुई। विपक्ष के प्रत्याशी यशवंत सिन्हा ने कहा था कि लोग अपनी अंतर्रात्मा की आवाज सुनकर उनके पक्ष में वोट करे, लेकिन नेताओं ने इसे काफी गंभीरता से लिया और द्रौपदी मुर्मू के समर्थन में ही क्रॉस वोटिंग की। गुजरात में एनसीपी के एकमात्र विधायक कांधल जाडेजा ने एनडीए उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू को वोट दिया। इसी तरह, ओडिशा कांग्रेस विधायक मोहम्मद मोकीम ने क्रॉस वोटिंग की। मतदान के बाद उन्होंने कहा, मैं एक कांग्रेस विधायक हूं लेकिन मैंने एनडीए के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू को वोट दिया है। यह मेरा निजी फैसला है क्योंकि मैंने अपने दिल की सुनी है जिसने मुझे धरती के लिए कुछ करने के लिए प्रेरित किया और इसलिए उन्हें वोट दिया।

वहीं, AICC महिला कांग्रेस महासचिव, आदिवासी और तेलंगाना की कांग्रेस विधायक सीता कमलन ने भी द्रौपदी मुर्मू को वोट किया। इसी तरह, बरेली के भोजीपुरा से समाजवादी पार्टी के विधायक शाहजील इस्लाम ने राष्ट्रपति चुनाव में कथित तौर पर क्रॉस वोटिंग की है। उन्होंने द्रौपदी मुर्मू को वोट दिया है, जबकि उनकी पार्टी यशवंत सिन्हा का समर्थन कर रही है। इससे पहले शिवपाल सिंह यादव ने कहा, नेताजी (मुलायम सिंह यादव) को आईएसआई एजेंट कहने वाले विपक्षी राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार यशवंत सिन्हा का हम कभी समर्थन नहीं कर सकते। सपा के कट्टर नेता, नेताजी के सिद्धांतों का पालन करने वाले ऐसे उम्मीदवार का कभी समर्थन नहीं करेंगे।

देश भर के 4809 विधायक और सांसद राष्ट्रपति चुनाव में मतदान कर रहे हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संसद भवन में मतदान किया। वोटों की गणना में पार्टी और विपक्ष के बीच भारी अंतर को देखते हुए एनडीए उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू का देश के अगले राष्ट्रपति के रूप में चुनाव होना तय है। वह देश के शीर्ष संवैधानिक पद पर पहुंचने वाली आदिवासी समुदाय की पहली व्यक्ति होंगी। विपक्ष के आम उम्मीदवार यशवंत सिन्हा ने पूरे जोश के साथ अभियान जारी रखा, लेकिन चुनाव नजदीक आने के साथ ही वे विपक्षी कबीले के वोटों के बंटवारे को नहीं रोक पाए।

वीडियो: पीएम मोदी ने संसद भवन और यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ ने यूपी विधानसभा में मतदान किया।

21 को मतगणना और 25 को शपथ ग्रहण

सोमवार को राष्ट्रपति चुनाव के लिए मतदान के बाद सभी राज्यों से मतपेटियां दिल्ली लाई जाएंगी और 21 जुलाई को मतगणना के बाद देश के नए राष्ट्रपति के चुनाव की घोषणा की जाएगी। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद का कार्यकाल 24 जुलाई की मध्यरात्रि को समाप्त हो रहा है और नए राष्ट्रपति का शपथ ग्रहण 25 जुलाई को होगा।

द्रौपदी मुर्मू को करीब दो तिहाई वोट मिलने की संभावना

संसद भवन परिसर में मानसून सत्र शुरू होने से पहले ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और सरकार के तमाम वरिष्ठ मंत्री और सांसद, विपक्षी-सांसदों के नेता भी वोट डाल रहे हैं। राष्ट्रपति चुनाव में एनडीए उम्मीदवार मुर्मू को न सिर्फ बीजद, वाईएसआर कांग्रेस, अकाली दल बल्कि सत्ताधारी गठबंधन के अलावा जेडीएस, झामुमो, शिवसेना और टीडीपी जैसे विपक्षी दलों का भी समर्थन मिला है। इससे साफ है कि द्रौपदी मुर्मू को करीब दो तिहाई वोट मिलने की संभावना है। विपक्ष के उम्मीदवार यशवंत सिन्हा के लिए हालात चुनौतीपूर्ण नजर आ रहे हैं।

Posted By: Arvind Dubey

  • Font Size
  • Close