अमेठी। अमेठी लोकसभा चुनाव में हार के बाद पहली बार अमेठी पहुंचे राहुल गांधी ने कार्यकर्ताओं की बैठक ली। बैठक के दौरान राहुल गांधी अलग ही अंदाज में नजर आए। उन्होंने कार्यकर्ताओं को अमेठी की जनता से सीधे जुड़ने की नसीहत दी तो वहीं ये भी कहा कि विपक्ष की भूमिका निभाने में सबसे ज्यादा मजा आता है। राहुल गांधी ने कार्यकर्ताओं की हौसला अफजाई करते हुए कहा कि नरेंद्र मोदी पीएम हैं, योगी आदित्यनाथ जी सीएम हैं और स्मृति ईरानी सांसद हैं। ऐसे में विपक्ष की भूमिका निभाने में और भी मजा आएगा।

उन्होंने कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि विपक्ष की भूमिका निभाना आसान है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि विपक्ष की भूमिका बेहतर तरीके से निभाने के लिए मुद्दों की कमी नहीं है।

बता दें अमेठी में पार्टी नेताओं व कार्यकर्ताओं के साथ संवाद कार्यक्रम में राहुल ने हिस्सा लिया था। अमेठी से गांधी-नेहरू परिवार का पुराना नाता रहा है। अमेठी में राहुल सोनिया गांधी के सांसद रहते 2002 में सक्रिय हुए। 2004, 2009 व 2014 के आम चुनाव में राहुल को अमेठी की जनता ने अपना सांसद भले ही चुना हो, लेकिन विधानसभा के साथ ही पंचायत व नगर निकाय के चुनावों में कांग्रेस से किनारा ही रखा।

राहुल गांधी को इस बार भाजपा की स्मृति ईरानी से बड़ी हार का सामना करना पड़ा है। ऐसे में अब अमेठी में पार्टी के खोए हुए जनाधार को दोबारा खड़ा करने के लिए राहुल गांधी ने एक बार फिर मैदान पकड़ लिया है। ऐसे में आने वाले दिनों में अमेठी की राजनीति एक बार फिर गरमा सकती है।