उत्तर रेलवे ने गुरुवार को बड़ा फैसला लेते हुए नई दिल्ली से राजधानी, शताब्दी, जन शताब्दी, वंदे भारत, दुरंतो समेत 28 ट्रेनों को रद्द कर दिया है। ये सभी ट्रेनें 9, 10, 11 और 12 मई से अगले आदेश तक के लिए रद्द कर दी गई हैं। उत्तर रेलवे ने इस बारे में प्रेस रिलीज जारी करते हुए कहा कि ट्रेनों के खराब रख-रखाव और लगातार कोरोना के बढ़ते मामलों के चलते उसने ये फैसला लिया है। उधर, पूर्व रेलवे ने भी 7 मई से 16 स्पेशल ट्रेनों को बंद करने का फैसला किया है। इस तरह दो दिन के भीतर 44 ट्रेनें कैंसल हो चुकी हैं।

माना जा रहा है कि इसके पीछे असली वजह ये है कि देशभर में कोरोना के बढ़ते मामलों के कारण लोग यात्रा से परहेज कर रहे हैं और कई रूट्स पर यात्रियों की संख्या काफी कम हो गई है। इससे पहले बुधवार को भी रेलवे ने करीब 14 ट्रेनों को रद्द करने का फैसला किया था। दरअसल लॉकडाउन की वजह से ये ट्रेनें खाली चल रही हैं और रेलवे को कुछ भी मुनाफा नहीं हो रहा है। इसलिए जिन रेलवे स्टेशनों से ये ट्रेनें संचालित होती है वहां से इनको रद्द कर दिया गया है।

लेकिन परेशानी की बात ये है कि कोरोना की दूसरी लहर के कारण बड़े शहरों जैसे दिल्ली, मुंबई, पुणे, बेंगलुरु आदि से बड़ी संख्या में प्रवासी मजदूरों का पलायन हो रहा है। कई राज्यों में लॉकडाउन की वजह से उनके घर लौटने के लिए ट्रेनें ही एकमात्र साधन हैं। वहीं जिन लोगों ने पहले से टिकट कटा रखे हैं, उन्हें टिकट के पैसे वापस मिलने की चिंता सता रही है। आपको बता दें कि टिकट की पूरी रकम तभी क्रेडिट होती है, जब ट्रेन अपने ऑरिजिन यानी पहले स्टेशन से आखिरी स्टेशन तक के लिए रद्द की जाए। ऐसे मामलों में पैसेंजर के बैंक खाते में पूरी रकम रिफंड हो जाती है। लेकिन अगर पैसेंजर ने खुद टिकट कैंसि‍ल किया, तो IRCTC कुछ कैंसलेशन चार्ज काट लेता है। वैसे ताजा मामले में रेलवे ने खुद ट्रेनें कैंसल की हैं, इसलिए आपके अकाउंट में खुद-ब-खुद पूरे पैसे रिफंड हो जाएंगे।

Posted By: Shailendra Kumar

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags