मुंबई। बॉलीवुड के शोमैन राज कपूर की पाकिस्तान स्थित पुश्तैनी हवेली को ढहाया जा रहा है और वहां शॉपिंग मॉल या होटल बनाने की तैयारी चल रही है। पेशावर स्थित इस हवेली की देखभाल की जिम्मेदारी खैबर पख्तूख्वाह प्रांत की सरकार की थी, लेकिन इस ऐतिहासिक विरासत के सहेजने की कोई मंशा नहीं दिखाई गई है।

स्थानीय अखबार द न्यूज के हवाले से एचटी ने लिखा है कि इसी हवेली में राज कपूर और कपूर खानदान के कई सदस्यों का जन्म हुआ था। अब हवेली को गिराने की कवायद शुरू हो गई है। 98 साल पुरानी इमारत की छत ढहा दी गई है।

ऐसा था राज कपूर का घर

  • यह हवेली पृथ्वीराज कपूर के पिता और राज कपूर के दादाजी दीवान भषेश्वरनाथ कपूर ने 1918 में बनवाई थी।
  • यह बहुमंजिला हवेली है, जो पेशावर के प्रसिद्ध किस्सा ख्वानी बाजार के नजदीक झक्की मुव्वर शाह के पास स्थित है।
  • मूल रूप यह छह मंजिला थी और कई कमरे थे, जिन्हें अब एक-एक कर तोड़ा जा रहा है।
  • शुरू में स्थानीय प्रशासन ने इसके मौजूदा मालिक से खरीदने की कोशिश की थी, ताकि संग्रहालय में तब्दील किया जा सके, लेकिन कीमत बहुत ज्यादा होने के कारण ऐसा संभव नहीं हो सका।
  • प्रांत के वरिष्ठ मंत्री शाहराम खान के मुताबिक, हमने हवेली के मालिक के साथ बात की थी, लेकिन सौदा नहीं पट सका। मालिकाना हक को लेकर भी विवाद है।
  • स्थानीय पत्रकार शाहीद शामिम का कहना है कि इमारत को तोड़कर वहां शॉपिंग माल या छोटा होटल बनाया जाएगा।
  • स्थानीय मीडिया में चर्चा है कि इमारत को थोड़ा-थोड़ा कर तोड़ा जा रहा है, ताकि प्रशासन की कार्रवाई से बचा जा सके।
  • सबसे ऊपरी की दो मंजिलों को बीस साल पहले ही तोड़ दिया गया था।
  • यहां पृथ्वीराज के छोटे भाई त्रिलोक कपूर और राजकपूर का जन्म हुआ है। राजकपूर 14 दिसंबर 1924 को जन्में थे। 1931 की शुरुआत में उनके दो भाइयों की मौत हो गई थी।
  • राजकपूर के भाई शम्मी कपूर और शशि कपूर का जन्म भारत में हुआ है।

पाक कोर्ट ने दिलीप कुमार के पैतृक घर पर मांगा स्पष्टीकरण

दिलीप कुमार का पुश्तैनी मकान राष्ट्रीय विरासत घोषित

Posted By:

  • Font Size
  • Close