Rajasthan: पंजाब के बाद अब राजस्थान कांग्रेस में भी नेतृत्व परिवर्तन की मांग उठने लगी है। राजस्थान कांग्रेस के उपाध्यक्ष राजेंद्र चौधरी ने मांग की है कि राजस्थान में अगला विधानसभा चुनाव सचिन पालयल के नेतृत्व में लड़ा जाना चाहिए। माना जा रहा है कि राजेंद्र चौधरी के इस बयान के बाद राजस्थान में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट खेमों में तनानती बढ़ सकती है। बता दें, सचिन पायलट के पक्ष में यह बयान तब आया है जब उन्होंने दिल्ली में पार्टी शीर्ष नेतृत्व से मुलाकात की है। राजस्थान की राजनीति को जानने वाले बता रहे हैं कि यहां भी कोई बड़ा बदलाव होने वाला है और पार्टी आलाकमान पितृ पक्ष खत्म होने का इंतजार कर रहा है। हालांकि इस बात की संभावना कम है कि पंजाब की तरह यहां मुख्यमंत्री बदल दिया जाए, लेकिन कैबिनेट में फेरबदल कर सचिन पायलट समर्थक विधायकों को तवज्जो दी जा सकती है।

Posted By: Arvind Dubey