Raju Thehat Murder: आज राजस्‍थान से एक गैंगवार की खबर सामने आई है। यहां कुख्यात गैंगस्टर राजू ठेहट की शनिवार को सीकर में गोली मारकर हत्या कर दी गई। राज्य के पुलिस महानिदेशक उमेश मिश्रा ने बताया कि फायरिंग की घटना का एक बदमाश ने वीडियो भी बनाया है। राजू की हत्या करने के बाद बदमाश अल्टो कार में फरार हुए हैं। सूचना मिलने पर जिला पुलिस अधीक्षक कुंवर राष्ट्रदीप सहित अन्य अधिकारी मौके पर पहुंचे। मिश्रा ने बताया कि बदमाशों के हरियाणा और पंजाब सीमा की तरफ फरार होने की सूचना है। पूरे प्रदेश में सुरक्षा बंदोबस्त कड़े किए गए हैं। राज्य से सटे हरियाणा और पंजाब सीमा पर विशेष सुरक्षा की जा रही है। सभी थाना अधिकारियों को अपने क्षेत्रों में रहने के आदेश दिए गए हैं।

ऐसे पहुंचे हत्‍यारे वारदात करने

कोचिंग छात्रों की ड्रेस पहनकर पहुंचे चार बदमाशों ने सीकर स्थित राजू के घर की घंटी बजाई। राजू जैसे ही दरवाजा खोलने के लिए पहुंचा तो पहले से तैयार बैठे बदमाशों ने उस पर फायरिंग कर दी। उसे चार गोली लगी और वह वहीं गिर गया। फायरिंग के बाद बदमाश मौके से फरार हो गए। फायरिंग की आवाज सुनकर घर के अंदर से बाहर आए स्वजनों से राजू को अस्पताल पहुंचाया,जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। राजू से रंजिश रखने वाले गैंगस्टर लारेंस विश्नोई की गैंग के बदमाश रोहित गोदारा ने इंटरनेट मीडिया पर पोस्ट कर के हत्या की जिम्मेदारी ली है। सीकर के पिपराली रोड़ पर स्थित घर पर हुई फायरिंग का मौके पर मौजूद नागौर निवासी एक व्यक्ति वीडियो बना रहा था। बदमाशों ने उसके भी गोली मारी,जिससे उसकी मौत हो गई।

राजू गिरा तो बदमाशों ने देखा कहीं जिंदा तो नहीं है

घटनास्थल के आसपास के सीसीटीवी फुटेज में चार बदमाश राजू की हत्या करने के बाद हथियारों के साथ भागते नजर आए हैं। एक फुटेज में दिख रहा है कि राजू के घर के बाहर शनिवार सुबह एक ट्रेकर आकर रूका,उसमें से उतरे चार बदमाशों ने राजू के घर की घंटी बजाई और फिर वह बाहर आया तो उस पर फायरिंग कर दी। बदमाश 30 से 40 सेकेंड तक राजू पर फायरिंग करते हुए नजर आए। बदमाशों ने करीब 60 राउंड फायरिंग की है। गोली मारने के बाद दो बदमाशों ने जमीन पर पड़े राजू को हाथ लगाकर देखा कि कहीं वह जिंदा तो नहीं है।

कई जिलों में सक्रिय था गैंग

पुलिस का मानना है कि ट्रेक्टर में बदमाश इसलिए आए,जिससे किसी को उन पर शक नहीं हो। बाद में ट्रेक्टर से कुछ दूरी पर खड़ी अल्टो कार में बदमाश फरार हो गए। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि बदमाशों की पहचान की जा रही है। राजू का गैंग प्रदेश के कई जिलों में सक्रिय था। उसकी लारेंस विश्नोई के साथ ही आनंदपाल गैंग के साथ वर्चस्व की लड़ाई चलती रहती थी। गोली मारने के बाद बदमाशों को हथियार लहराते हुए भागते देख शहर में दहशत फैल गई। जिस समय बदमाश भाग रहे थे,उस समय निकट के दो कोचिंग संस्थानों से छात्र बाहर निकल रहे थे। बदमाशों को देखकर छात्र इधर-उधर छुपने लगे।

हत्‍या को बताया प्रतिशोध

राजू की हत्या की जिम्मेदार लारेंस विश्नोई गैंग के रोहित ने ली है। रोहित बीकानेर जिले के लूणकरणसर का है। उसने इंटरनेट मीडिया पर पोस्ट में लिखा है कि ये हमारे बड़े भाई आनदंपाल और बलबीर की हत्या में शामिल था। जिसका बदला आज हमने इसे मारकर लिया है।

Posted By: Navodit Saktawat

  • Font Size
  • Close