अगरतला। आंध्र प्रदेश से पूर्वोत्तर राज्य त्रिपुरा के लिए पांच हजार टन चावल की पहली खेप बांग्लादेश के जरिये गुरुवार तक अगरतला पहुंच जाएगी। राज्य के खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामलों के मंत्री भानूलाल साहा ने यह जानकारी दी। दोनों देशों के बीच तीन साल की कूटनीतिक वार्ता के बाद बांग्लादेश ने इसकी अनुमति दी है।

मानसून के दौरान पूर्वोत्तर राज्यों से सड़क या रेल माध्यम से संपर्क साधना काफी मुश्किल हो जाता है। ऐसे में देश के अन्य हिस्सों से इस क्षेत्र में जरूरी वस्तुओं और खाद्य पदार्थों की आपूर्ति में बाधा उत्पन्न हो जाती है। साहा के मुताबिक आंध्र प्रदेश के काकीनाडा बंदरगाह से एक छोटे जहाज में पांच हजार टन चावल की पहली खेप पूर्वी

बांग्लादेश के आशुगंज बंदरगाह पर पहुंच चुकी है। यह चावल जनवितरण प्रणाली योजना के तहत लाया जा रहा है।

आशुगंज बंदरगाह अगरतला से तकरीबन 40 किमी दूर है। मंत्री ने बताया कि पांच हजार टन की दूसरी खेप भी इसी रास्ते त्रिपुरा लाई जाएगी। मालूम हो कि कोलकाता से अगरतला (वाया गुवाहाटी) की दूरी 1,650 किलोमीटर है, जबकि कोलकाता से अगरतला (वाया बांग्लादेश) की दूरी महज 350 किमी है।

Posted By:

fantasy cricket
fantasy cricket