उत्‍तर प्रदेश मतांतरण साजिश मामले में उप्र व गुजरात एटीएस ने वडोदरा से सलाउद्दीन शेख नामक व्‍यक्ति की धरपकड की है। मतांतरण के मास्‍टर माइंड उमर गौतम को सलाउद्दीन अब तक 30 लाख रु की मदद भेज चुका है। ब्रिटेन से हवाला के जरिए धन एकत्र कर वह देश में मतांतरण पर खर्च करता था, कोरोना मरीजों के इलाज के लिए मिला धन भी वह मतांतरण पर खर्च कर रहा था। ब्रिटेन व अन्‍य देशों से वह धर्म व समाजसेवा के नाम पर धन लेकर भारत के विविध राज्‍यों में मतांतरण के लिए भेजता था। उत्‍तर प्रदेश में हाल ही पकडी गई मतांतरण की बडी साजिश के मुख्‍य सूत्रधार उमर गौतम को वह 3 बार 10-10 लाख रु की मदद भेज चुका है। पुलिस बुधवार को ही उसे गिरफ़तार कर 3 दिन के ट्रांजिट रिमांड पर लेकर उत्‍तर प्रदेश रवाना हो गई। गुजरात व उप्र आतंकवाद निरोधक दस्‍ते के संयुक्‍त ऑपरेशन में सलाउद्दीन को गिरफ़तार कर की गई पूछताछ में सामने आया कि ब्रिटेन से हवाला के जरिए आर्थिक मदद जुटाकर उप्र में उमर गौतम को 30 लाख भेज चुका है।

गुजरात में कोविड-19 के मरीजों के इलाज के लिए मिला पैसा भी वह मतांतरण पर खर्च करता था। इस्‍लाम के कथित धर्म प्रचारक जाकीर नाइक से भी उसके संबंधों को खंगाला जा रहा है। उसके तार मूक बधिर बच्‍चों का मतांतरण कराकर उन्हें आतंक की तालीम के लिए पाकिस्‍तान भेजने की साजिश से भी जुडे हो सकते हैं। वडोदरा के फतेहगंज क्रष्‍णदीप टावर में रहने वाला सलाउद्दीन जैनुद्दीन शेख फल-फ्रूट का कारोबारी है तथा पाणीगेट पर अल फतेह नामक गैरसरकारी संगठन चलाता है।

Posted By: Navodit Saktawat