मुंबई। भारतीय स्टेट बैंक ने बुधवार को फिक्स्ड डिपॉजिट पर ब्याज दर 0.10 प्रतिशत तक बढ़ा दिया है। बैंक के इस कदम के बाद आम आदमी को सीधा फायदा होगा। बैंक ने अपनी वेबसाइट पर दी जानकारी में कहा है कि अब ग्राहकों को चुनिंदा परिपक्वता अवधि वाली एफडी स्कीम्स पर अब 6.80 प्रतिशत तक ब्याज मिलेगा।

बैंक के अनुसार ये सभी स्कीम्स 1 करोड़ रुपए से कम जमा रकम वाली हैं और इन पर ब्याज दर में तत्काल प्रभाव से 0.5-0.10 प्रतिशत तक बढ़ोतरी की गई है। एसबीआई के मुताबिक एक साल से ज्यादा और दो वर्ष से कम परिपक्वता अवधि वाली जमा योजनाओं पर ब्याज दर संशोधित करके 6.80 प्रतिशत की गई है, जो पहले 6.70 प्रतिशत थी।

इसी कैटेगरी में वरिष्ठ नागरिकों को अब 7.30 प्रतिशत ब्याज मिलेगा, जो पहले 7.20 प्रतिशत था। दो साल से ज्यादा और तीन साल से कम परिपक्वता अवधि वाली स्कीम्स पर अब 6.80 प्रतिशत ब्याज मिलेगा, जो पहले 6.75 प्रतिशत था।

अन्य एफडी स्कीम्स पर ब्याज दर में कोई बदलाव नहीं किया गया है। मसलन, फिलहाल एसबीआई तीन वर्ष से ज्यादा और पांच वर्ष से कम परिपक्वता अवधि वाली जमा योजनाओं पर 6.80 प्रतिशत ब्याज दे रहा है। इससे पहले इसी महीने निजी क्षेत्र के एचडीएफसी बैंक ने चुनिंदा परिपक्वता अवधि वाली जमा योजनाओं पर ब्याज दर में 0.05-0.25 प्रतिशत तक बढ़ोतरी की थी।

आईसीआईसीआई ने एफडी दरों में 0.25 फीसदी की बढ़ोतरी की थी। बैंक ने 46 से 60 दिन, 61 से 90 दिन, 91 से 120 दिन और 121 से 184 दिन के फिक्स्ड डिपॉजिट पर भी दरों में 0.25 फीसदी की बढ़ोतरी की थी। वहीं एक साल से 389 दिन की एफडी पर पर ब्याज 0.15 प्रतिशत बढ़ाया था।

Posted By: