कोरोनाकाल में लोग अपने घरों से बाहर नहीं निकलना चाह रहे हैं। इस वजह से ऑनलाइन पेमेंट में काफी तेजी आई है। हालांकि, इसी के चलते ऑनलाइन ठगी के मामले भी बढ़े हैं। कोरोना की वजह से लोगों में स्वास्थ्य के प्रति चिंता बढ़ी और दवाइयों की मांग भी बढ़ गई है। इस बीच देश के सबसे बड़े सार्वजनिक बैंक स्टेट बैंक ने अपने ग्राहकों को चेताया है। बैंक का कहना है कि इन दिनों ऑनलाइन ठग दवाई की होम डिलीवरी करने के बहाने ठगी कर रहे हैं।

कोरोना की दूसरी लहर के चलते बढ़ी दवाइयों की मांग

देश में कोरोना की दूसरी लहर ने जमकर तबाही मचाई है। रोजाना लाखों नए मामले आने के बाद देश में दवाइयों की मांग भी बढ़ गई है। वहीं, इसी समय सरकार ने देश में लॉकडाउन लगाया है। ऐसे में लोग ऑनलाइन दवाई खरीदने की कोशिश कर रहे हैं। लोगों की इसी मजबूरी का फायदा उठाकर साइबर ठगी लूट कर रहे हैं। ये लोग दवाई का ऑनलाइन ऑर्डर लेने का झांसा देते हैं और आपसे पहले पेमेंट करने को कहते हैं। पैसे ट्रांसफर करने के बाद भी ये लोग दवाई नहीं डिलिवर करते हैं और ग्राहकों के पैसे लूट लेते हैं।

ट्वीट कर लोगों को चेताया

स्टेट बैंक ने अपने ट्वीट के जरिए लोगों को चेतावनी दी है। बैंक ने कहा कि कोरोना और फर्जीवाड़ा करने वाले लोगों से दूर रहें। ऑनलाइन लुटेरे जीवनरक्षक दवाइयों की होम डिलीवरी के बहाने लूट कर रहे हैं। ये लोग आपको कई जरूरी दवाइयां देने का वादा करते हैं और आपसे उनके बैंक अकाउंट में पैसे ट्रांसफर करने को कहते हैं। इनसे सतर्क रहें। बैंक ने कहा कि किसी को भी पैसे देने से पहले पूरी तरह जांच कर लें कि आप सही जगह पैसे भेज रहे हैं।

Posted By: Arvind Dubey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags