उत्तरप्रदेश के अमरोहा जिले के बावनखेड़ी हत्याकांड की दोषी शबनम की फांसी फिर टल गई है। उसके वकील ने राज्यपाल के यहां दया याचिका दायर की है। जिसके चलते उसे कुछ दिन की मोहलत मिल गई। ऐसे में फिर से याचिका दाखिल होने के कारण डेथ वारंट जारी नहीं हो सका। रामपुर जेल प्रशासन ने अमरोहा सेशन अदालत में भेजी याचिका के आधार पर आज (मंगलवार) डेथ वारंट जारी नहीं किया।

इससे पहले कहा जा रहा था कि जिला जज की कोर्ट में शबनम की रिपोर्ट सौंपी जाएगी। इस रिपोर्ट में कोई याचिका लंबित नहीं हुई तो फांसी की तारीख तय होगी। गुनहगार के वकील ने दया याचिका के लिए राज्यपाल से गुहार लगाते हुए जिला रामपुर प्रशासन को प्रार्थनापत्र सौंपा था। आज सुनवाई में यह बात सामने आई। इस कारण फांसी की तारीख तय नहीं हो सकी।

परिवार के सात लोगों की हत्या की दोषी शबनम

बता दें कि 14 अप्रैल 2008 रात को हसनपुर के गांव बावनखेड़ी में शबनम ने अपने प्रेमी सलीम के साथ मिलकर अपने माता-पिता, दो भाई, बहन और भतीजे को मार डाला था। 15 जुलाई 2010 को अमरोहा सेशन कोर्ट ने दोनों को फांसी की सजा सुनाई थी। फिर हाईकोर्ट और सुप्रीमकोर्ट ने भी सजा को बरकरार रखा। इसके बाद राष्ट्रपति ने भी दया याचिका खारिज कर दी। फिलहाल सलीम की पुनर्विचार याचिका पर फैसला होना बाकी है।

पोस्ट ग्रेजुएट शबनम को आठवीं पास सलीम से हुआ प्यार

बता दें शबनम पोस्ट ग्रेजुएट है, जबकि सलीम सिर्फ आठवीं पास है। शबनम के परिजन इस रिश्तें के खिलाफ थे। इस लिए उसने अपने परिवार को खत्म कर दिया। पहले शबनम ने पुलिस को बताया था कि डकैतों ने परिवार को मार डाला। वो इसलिए बच गई क्योंकि छत पर सो रही थी। लेकिन वारदात के चार दिन बाद पुलिस को उनके घर से चायपत्ती के डिब्बे में सिम कार्ड मिली। इस सिम कार्ड से शबनम सलीम से बात करती थी। पुलिस ने सख्ती से पूछताछ की तो दोनों ने अपना जुर्म कुबूल कर लिया।

आजाद हिंदुस्तान में पहली बार किसी महिला को होगी फांसी

शबनम को मथुरा में स्थित फांसी घर में फांसी दी जाएगी। आजाद हिंदुस्तान में पहली बार किसी महिला को फांसी होगी। जेल प्रशासन ने इसकी तैयारी शुरू कर दी है। शबनम के वजन बराबर पत्थर लटकाकर रिहर्सल किया गया है। जल्लाद पवन कारागार में जायजा ले चुके हैं।

Posted By: Sandeep Chourey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags