मनाली। हिमाचल प्रदेश के लाहुल के समीप स्थित छतड्डू में जिस मलयालम फिल्म की हीरोइन और उसकी यूनिट को लेने के लिए रेस्क्यू दल भेजा गया था, वह बिना अनुमति से शूटिंंग कर रही थी।

मंत्री डॉ. रामलाल मार्कंडेय ने कहा कि मलयालम फिल्मों की हीरोइन बुधवार को लौट आई हैं। उन्होंने हैरानी जताई कि यह यूनिट बिना अनुमति की ही शूटिग करने में व्यस्त थी।

सरकार तक हलचल मच गई थी

गौरतलब है कि लाहुल के नजदीक स्थित छतड्डू में भारी बारिश के दौरान मलयालम फिल्मों की हीरोइन और उसकी यूनिट के फंसे होने की सूचना के बाद सरकार तक हलचल मच गई थी। लाहुल स्पीति प्रशासन की टीम मंगलवार को रेस्क्यू करने गई थी, लेकिन यूनिट ने आने से इन्कार कर दिया था।

प्रशासन को इस बात की जानकारी ही नहीं थी

हैरानी की बात तो यह है कि जिला प्रशासन को इस बात की जानकारी ही नहीं थी कि यह फिल्म यूनिट बिना अनुमति के यहां शूटिग कर रही थी। बुधवार को मलयालम अभिनेत्री मंजू वॉरियर के साथ ही उनकी यूनिट मनाली लौट गई।

इनका कहना है

यूनिट ने प्रशासन को लिख कर दिया था कि वह अपनी मर्जी से छतड्डू में रह रहे हैं। बुधवार को यूनिट मनाली लौट गई है। उन्होंने शूटिग की अनुमति ली थी या नहीं, यह रिकॉर्ड देखकर ही कहा जा सकता है।

केके सरोच, उपायुक्त, लाहुल स्पीति