नई दिल्ली। महाराष्ट्र चुनावों में बेहतर प्रदर्शन से उत्साहित आल इंडिया मजलिस-ए-इत्तिहाद उल मुसलमीन (एआईएमआईएम) का ध्यान अब उत्तर प्रदेश पर केंद्रित हो गया है। पार्टी यहां सपा और बसपा के समर्थन आधार पर धावा बोलने की तैयारी में लगी है।

एआईएमआईएम के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने कहा कि हम उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव लड़ेंगे। उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव 2017 के शुरू में कराया जाना है। अपनी योजना को विस्तार से सामने रखते हुए ओवैसी ने बताया कि जब समाजवादी पार्टी लोगों से किए गए वादे पूरे करने विफल है, तब वह राज्य में एआईएमआईएम का आधार मजबूत करने में जुटे हैं। सांसद ओवैसी ने स्पष्ट किया कि अभी यह कह पाना जल्दबाजी होगी कि उत्तर प्रदेश में पार्टी किसी दूसरी पार्टी के साथ गठबंधन करेगी या नहीं।

वर्ष 2014 में हुए लोक सभा चुनाव में उत्तर प्रदेश में भाजपा का जनाधार बढ़ता नजर आया, जबकि पिछले कई दशकों तक राज्य में सपा और बसपा का ही दबदबा बना रहा। अपने विवादास्पद बयानों के कारण ओवैसी विवादों में रहे हैं। उन्होंने कहा कि सपा सरकार ने ऐन वक्त पर उनकी सभी रैलियां और सभाओं को निरस्त कर दिया और उन्हें उत्तर प्रदेश में घुसने नहीं दिया जा रहा है।

Posted By:

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस