कोरोना वायरस के खिलाफ जंग का ऐलान करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 21 दिन के लॉकडाउन की घोषणा की थी। यह लॉकडाउन 14 अप्रैल को खत्म हो रहा है और हर किसी के जेहन में यही सवाल है कि क्या 15 अप्रैल से सबकुछ पहले जैसा हो जाएगा। बहरहाल, संकेत तो ऐसे नहीं मिल रहे हैं। एएनआई की रिपोर्ट के मुताबिक, विभिन्न राज्य सरकारों और विशेषज्ञों ने मोदी सरकार से लॉकडाउन बढ़ाने की अपील की है। राज्य सरकारों का भी मानना है कि कोरोना वायरस को और फैलने से रोकना है तो लॉकडाउन को बढ़ाना होगा। आगे खबर यह है कि केंद्र सरकार विचार कर रही है और लॉकडाउन पर जल्द ही फैसला लिया जाएगा।

पलायन और मरकज ने फेर दिया पानी, इसलिए लॉकडाउन जरूर

कहा जा रहा है कि मजदूरों के पलायन और निजामुद्दीन मरकज के कारण 21 दिन के लॉकडाउन का वो फायदा नहीं मिला, जो मिलना था। सरकार को उम्मीद थी कि कोरोना वायरस के केस डबल होने की दर भारत में 7 से 8 दिन रहेगी, लेकिन इन दो घटनाओं के कारण यह घटकर 4.1 रह गई है। ऐसे में लॉकडाउन बढ़ाना जरूरी हो गया है। कई रिपोर्ट में कहा गया है कि 21 दिन का लॉकडाउन काफी नहीं होगी। इसे 49 दिन तक बढ़ाना जरूरी होगा।

आंशिक लॉकडाउन को अपनाया जाए

दूसरा पक्ष कहता है कि भारत में हालात काबू में हैं। ज्यादा से ज्यादा लोगों की जांच हो रही है। अब तक 62 जिलों की पहचान कर हॉट स्पॉट तय कर दिए गए हैं। संभव है कि पूरे देश में लॉकडाउन रखने के बजाए ऐसे स्थानों को पूरी तरह लॉकडाउन कर दिया जाए। बाकी देश को बारी-बारी से राहत दी जाए। यहां भीलवाडा का उदाहरण दिया जा रहा है।

बता दें, तेलंगाना के मुख्यमंत्री केसीआर ने भी सिफारिश की है कि लॉकडाउन 2 जून तक बढ़ा दिया जाना चाहिए। इसी तरह उत्तर प्रदेश से भी लॉकडाउन बढ़ाने के संकेत मिले हैं। पीएम मोदी भी कह चुके हैं कि कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई लंबी चलेगी।

तेजी से बढ़ रहे नए मामले, लेकिन भारत की स्थिति दूसरों से अच्छी

भारत में कोरोना वायरस के केस लगातार बढ़ रहे हैं और अब आंकड़ा 4000 पार कर गया है, लेकिन भारत की स्थिति बाकी देशों से अच्छी है। अमेरिका, इटली, जर्मनी और ईरान में जहां लगातार लोग मर रहे हैं, वहीं भारत में हालात काबू में बताए जा रहे हैं।

Posted By: Arvind Dubey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना