Davinder Singh: आतंकियों का मददगार रहा पूर्व डीएसपी Davinder Singh अब आतंकियों और अपराधियों से ही डर रहा है। हीरानगर जेल भेजे जाने के आदेश पर Davinder Singh ने NIA कोर्ट में खुद की जान को खतरा बताया है। देविंदर सिंह और चार आतंकियों को जम्मू स्थित NIA कोर्ट ने 15 दिन की न्यायिक हिसासत में भेजने का आदेश दिया है। Davinder Singh को हीरानगर जेल जबकि आतंकी नावेद बाबू और अन्य तीन को कोटबलवाल जेल भेजने का कहा गया था। इसे लेकर Davinder Singh ने NIA कोर्ट से गुहार लगाई है कि उसे हीरानगर जेल नहीं भेजा जाए क्योंकि उसे वहां जान का खतरा है। इसके पीछे उसने जज के सामने तर्क दिया कि वहां कई आतंकी और वे अपराधी बंद हैं जिन्हें उसने गिरफ्तार किया था।

Davinder Singh की इस याचिका के बाद जज ने इसे लेकर निर्देश जारी किए हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक NIA पुलिस आरोपियों के खिलाफ 30 दिनों की रिमांड का पूरा उपयोग करना चाहती है। बता दें कि शुरुआत के 10 दिनों तक Davinder Singh जम्मू कश्मीर पुलिस की हिरासत में था। वहीं NIA को 15 दिनों की रिमांड मिली थी। जब उसकी रिमांड अवधि 5 दिनों की बाकी रह गई तो छापामार कार्रवाई के दौरान मिले साक्ष्यों के आधार पर NIA उससे और पूछताछ करना चाहती है।

हिजबुल आतंकियों के साथ हुआ था गिरफ्तार

जम्मू कश्मीर पुलिस में डीएसपी रहा Davinder Singh जनवरी में हिजबुल मुजाहिदीन के 2 आतंकियों के साथ गिरफ्तार किया गया था। जिस गाड़ी से Davinder Singh आतंकियों के साथ घूम रहा था उसमें बड़ी मात्रा में हथियार भी बरामद किए गए थे। पुलिस पूछताछ में देविंदर सिंह ने कई बातों का खुलासा किया है।

Posted By: Neeraj Vyas

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020