Table Top Runway in India List: केरल के कोझिकोड में हुई विमान दुर्घटना की पूरी दुनिया में चर्चा है। कोझिकोड का यह रवने टेबलटॉप रनवे है। इसका मतलब है कि हवाई पट्टी एक ऐसे ऊंचाई वाले इलाके में स्थित है, जिसके आसपास खाई यानी घाटी है। इसका स्वरूप एक मेज की तरह होता है। टेबलटॉप में रनवे खत्म होने के बाद आगे ज्यादा जगह नहीं होती है। ऐसे में रनवे पर उतरते हुए विमान के आगे निकल जाने का खतरा बढ़ जाता है। हादसा भी ऐसे ही हुआ। हादसे की एक और वजह कोझिकोड के रनवे की भौगोलिक स्थिति को माना जा रहा है।

टेबलटॉप रनवे पर लैंडिंग जोखिमभरा

टेबलटॉप रनवे खासे जोखिम वाले होते हैं। लैंडिंग और उड़ान के दौरान काफी सावधानी बरतनी होती है, जिसके कारण पायलट भी काफी दक्ष होना जरूरी होता है। ज्यादातर ऐसे रनवे पठार या पहाड़ के टॉप पर बने होते हैं। कोझिकोड के अतिरिक्त मेंगलुरु (कर्नाटक) और मिजोरम में टेबलटॉप रनवे हैं। जानकारो का कहना है कि टेबलटॉप रनवे पर कई बार पायलट यह अंदाजा नहीं लगा पाते हैं कि हवाई पट्टी खत्म होने वाली है या अभी कुछ दूर तक और है। इसी दुविधा में लैंडिंग होती है और खतरा बना रहता है।

DGCA ने बताया था कोझिकोड को खतरनाक

इस बीच खबर है कि डायरेक्टर जनरल ऑफ सिविल एसोसिएशन (डीजीसीए) ने कुछ समय पहले ही कोझिकोड के एयरपोर्ट को खतरनाक बताया था। डीजीसीए की आशंका शुक्रवार को सही साबित हुई, जब दुबई से कोझिकोड आ रहा विमान दुर्घटनाग्रस्त हो गया। बहुत अधिक बारिश के कारण विमान हवाईपट्टी पर फिसल गया और 50 फीट गहरी खाई में जा गिरा। हादसे में अब तक 18 लोगों के मारे जाने की पुष्टि हुई है, जिसमें दोनों पायलट शामिलि हैं। बताते हैं कि एयरफोर्स से रिटायर हुए दीपक साठे ने अपना पूरा अनुभव लगा दिया। यही कारण है कि आज अधिकांश यात्री जीवित हैं।

Posted By: Arvind Dubey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020