चेन्नई। Tamil Nadu rains: तमिलनाडु में भारी बारिश की वजह से जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। राज्य के पश्चिमी जिले इरोड में भारी बारिश की वजह से भवानी नदी के आसपास रहने वाले लोगों के लिए बाढ़ का अलर्ट जारी किया गया है। आसपास हो रही भारी बारिश की वजह से नदी पर बने बांध का जलस्तर लगातार बढ़ रहा है। भवानी जलाशय का जलस्तर 105 फुट के अपने अधिकतम स्तर पर पहुंच गया है। जलस्तर में लगातार हो रही वृद्धि को देखते हुए 11,950 क्युसेक पानी को बांध से छोड़ा गया।

उत्तर-पूर्वी मानसून की वजह से तमिलनाडु के कई शहरों में भारी बारिश हो रही है। बारिश की वजह से अभी तक 20 लोगों के मरने की खबर है। इनमें से 15 लोगों की मौत सिर्फ सोमवार को हुई है। चेन्नई में पिछले 24 घंटों में 100 MM बारिश रिकॉर्ड की गई। पुराने महाबलिपुरम इलाके और ईस्ट कोस्ट रोड पर 112 MM वर्षा दर्ज की गई। मौसम विभाग ने अगले 24 से 48 घंटों में तमिलनाडु में भारी बारिश का अनुमान जताया है।

इससे पहले तमिलनाडु में भारी बारिश होने की चेतावनी के चलते 3 जिलों में एहतियान स्कूलों और कॉलेजों की छुट्टी घोषित कर दी गई थी। कांचीपुरम, वेल्लोर और चेंगलपेट में भारी बारिश होने की आशंका जताई गई थी। इस चेतावनी की वजह से इन तीनों जिलों में छुट्टी घोषित की गई है। मौसम विभाग की चेतावनी को देखते हुए मद्रास यूनिवर्सिटी में शुक्रवार को होने वाली परीक्षाओं को भी निरस्त किया गया है। शुक्रवार को होने वाली परीक्षाओं की अगली तारीख प्रबंधन द्वारा बाद में घोषित की जाएगी। मौसम विभाग की भविष्यवाणी के बाद तीनों जिलों के कलेक्टर द्वारा स्कूलों और कॉलेजों को शुक्रवार को बंद रखने का आदेश जारी कर दिया था । सेरकाडू, कटपादी में मौजूद तिरुवल्लुवर यूनिवर्सिटी ने भी तय कार्यक्रम के अनुसार गुरुवार को होने वाली परीक्षाओं को रद्द कर दिया गया। गुरुवार को होने वाली परीक्षा अब 3 दिसंबर को आयोजित की जाएगी।

Posted By: Yogendra Sharma