नई दिल्ली। दिल्ली-लखनऊ तेजस एक्सप्रेस में यात्रियों को बेहतर सफर के साथ कई और भी सौगातों मिलेगी। इसमें हरेक यात्री को 25 लाख रुपये का यात्रा बीमा मुफ्त में दिया जाएगा।

इसके अलावा इस ट्रेन के यात्रियों को एयरलाइंस जैसी बेहतरी सुविधाएं भी दी जाएंगी। इसमें सबसे खास सुविधा यह है कि यात्रियों का सामान उनके घर से ट्रेन में उनकी सीट तक लाने की सुविधा दी जाएगी। लेकिन इसके लिए अलग से शुल्क चुकाना होगा।

आईआरसीटीसी अपनी पहली ट्रेन का आगामी चार अक्टूबर से परिचालन शुरू करने जा रही है। दिल्ली-लखनऊ तेजस एक्सप्रेस पहली ऐसी ट्रेन होगी, जिसका परिचालन भारतीय रेलवे की सहयोगी इकाई आईआरसीटीसी के द्वारा किया जाएगा। भारतीय रेलवे ने अपनी कुछ ट्रेनों को निजी कंपनियों को सौंपने की योजना के तौर पर आईआरसीटीसी को पायलट प्रोजेक्ट के तहत इस ट्रेन का जिम्मा सौंपा है। तेजस ट्रेन के परिचालन विवरण वाले एक दस्तावेज के अनुसार आईआरसीटीसी की दिल्ली-लखनऊ तेजस एक्सप्रेस के यात्रियों को मुफ्त में 25 लाख रुपये का रेल यात्रा बीमा दिया जाएगा।

इसके अलावा, इस ट्रेन की सबसे अनूठी सुविधा होगी यात्रियों का सामान घर से पिकअप कराना और गंतव्य तक पहुंचाना। हालांकि इस सुविधा को साकार करने की प्रक्रिया पर आईआरसीटीसी रूपरेखा को अंतिम रूप दे रही है। इसके तहत निर्धारित शुल्क अदा करने पर यात्री का सामान घर से लाकर ट्रेन में उसकी सीट तक पहुंचाया जाएगा। ऐसा यात्रियों का सफर सरल, सहज और बेहतर बनाने के उद्देश्य से किया जा रहा है। यात्री अपने सामान की चिंता किए बगैर यात्रा कर सकें इसके लिए उनके सामान का भी बीमा होगा।

ऐसी सुविधा भारत में किसी ट्रेन के लिए पहली बार दी जा रही है। हालांकि यह प्रणाली जापान की शिनकासिन (बुलेट) ट्रेनों में खासी लोकप्रिय है। तेजस एक्सप्रेस मंगलवार को छोड़कर हफ्ते में छह दिन चलेगी। ट्रेन दिल्ली से शाम 4.30 बजे रवाना होगी और लखनऊ रात में 10.45 बजे पहुंचेगी। जबकि लखनऊ से ट्रेन सुबह 6.10 बजे चलेगी और दिल्ली दोपहर 12.25 बजे पहुंचेगी। हालांकि इस समय में कुछ परिवर्तन भी हो सकता है।

इस ट्रेन के यात्रियों को लखनऊ जंक्शन स्टेशन पर रिटायरिंग रूम और नई दिल्ली रेलवे स्टेशन पर एक्जिक्यूटिव लाउंज का उपयोग करने की सुविधा दी जाएगी। इस प्रीमियम ट्रेन में चाय-कॉफी मुफ्त मिलेगी। इसे वेंडिंग मशीनों के जरिए सर्व किया जाएगा। यात्रियों को मांगने पर आरओ मशीन का पानी दिया जाएगा। हवाई उड़ानों की तरह ट्रेन में मौजूद स्टाफ ट्रॉली के जरिए परोसेगा।

तेजस एक्सप्रेस में कोई रियायत, विशेषाधिकार या ड्यूटी पास की इजाजत नहीं होगी। इसके अलावा, पांच साल से अधिक उम्र के बच्चों का भी पूरा किराया वसूल किया जाएगा। तेजस में तत्काल कोटा की सुविधा नहीं होगी। ट्रेन के एक्जिक्यूटिव क्लास और एसी चेयर कार प्रत्येक में पांच सीट विदेशी पर्यटकों के लिए आरक्षित रहेंगी।

दस्तावेजों के अनुसार इस ट्रेन का किराया परिवर्तनीय होगा और उसी रूट पर टैक्सी, बस और फ्लाइट के किराए की प्रतिस्पर्द्धा में निर्धारित होगा। किराये का निर्धारण 'पीक' या 'लीन' सीजन, त्योहारों और टिकटों की मांग को देखते हुए भी तय होगा। अन्य ट्रेनों में 120 दिन पहले से एडवांस बुकिंग के बजाय आइआरसीटीसी तेजस एक्सप्रेस में यात्रा से केवल साठ दिन पहले ही टिकटों की बुकिंग करेगी।

तेजस ट्रेन में एक चेयर कार भी होगी। इसमें यात्रा के लिए 'ग्रुप बुकिंग' की भी सुविधा होगी। 78 सीटों वाली एसी चेयर कार में 'पहले आएं पहले पाएं' के आधार पर ग्रुप बुकिंग यात्रा से कम से कम तीन दिन पहले करानी होगी। टिकट बुक कराने की यह सुविधा ऑनलाइन उपलब्ध रहेगी।

Posted By: Yogendra Sharma

fantasy cricket
fantasy cricket