नई दिल्ली। हिजबुल के 2 आतंकियों के साथ गिरफ्तार DSP Davinder Singh और 2001 में संसद पर हुए हमले का मास्टर माइंड अफजल गुरु (Afzal Guru) भी एक दूसरे को जानते थे। इसका खुलासा आतंकी अफजल गुरु के एक खत से होता है जो उसने अपने वकील को लिखा था। इस खत में गुरु ने यह बताया था कि आखिर कैसे जम्मू कश्मीर के पुलिस ऑफिसर देवेंदर सिंह ने उसे टॉर्चर किया था। इतना ही नहीं आतंकी गुरु ने एक सनसनीखेज दावा किया था कि भारत में संसद पर हुए हमले के पूर्व देवेंदर ने ही उन्हें बॉर्डर पार कराने में मदद की थी। इस बीच मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, आतंकी अफजल गुरु की पत्नी ने दावा किया है कि डीएसपी देवेंदर सिंह को एक लाख रुपए देने के लिए उसने साल 2000 में अपने गहने भी बेच दिए थे।

हालांकि आतंकी के उस वक्त किए गए दावे की जांच नहीं की गई थी और देवेंदर पर किसी भी तरह की जांच नहीं बैठाई गई थी। गौरतलब है कि हाल ही में जम्मू कश्मीर में पदस्थ डीएसपी देवेंदर सिंह को हिजबुल मुजाहिदीन के दो आतंकियों के साथ गिरफ्तार किया गया है। अब पुलिस इसकी जांच कर रही है कि जम्मू कश्मीर पुलिस में सब इंस्पेक्टर के पद से नौकरी की शुरुआत करते हुए अब तक और कितनी बार देवेंदर सिंह ने आतंकियों की मदद की है। हालांकि इस बात का उत्तर किसी के पास नहीं है कि जब आतंकी अफजल गुरु ने देवेंदर सिंह पर गंभीर आरोप लगाए थे तो वह किसी भी तरह की जांच से कैसे बच निकला।

आतंकी अफजल ने अपने वकील को लिखे खत में यह भी कहा कि कैसे देवेंदर ने उसे पुलिस अधिकारियों को पैसे देने के लिए प्रताड़ित करते हुए दबाव बनाया था। अफजल ने कहा था कि देवेंदर ने उसे एक मोहम्मद नाम के शख्स के मिलवाया था और उसे दिल्ली में मुझे किराए का घर दिलवाने का कहा था।

गौरतलब है कि 13 दिसंबर 2001 को हुए संसद में हमले के बाद पुलिस ने कार्रवाई करते हुए पांच आतंकियों को पकड़ा था उसमें एक मोहम्मद भी था।

Posted By: Neeraj Vyas

fantasy cricket
fantasy cricket