श्रीनगर। जम्‍मू-कश्मीर में एक बार फिर से आतंकियों और सुरक्षाबलों के बीच मुठभेड़ हुई है। इस मुठभेड़ में सुरक्षाबलों ने बड़ी सफलता हासिल करते हुए एक आतंकी को मार गिराया है। इस आतंकी की पहचान शब्बीर अहमद डार के रूप में हुई है। इसके पाक से भारी मात्रा में गोला-बारूद बरामद हुआ है। जहूर हिज्बुल का कमांडर है। वह 2016 में टेरीटोरियल आर्मी से भागकर आतंकी बना था।

वहीं बारामूला में भी सोपोर के बाहरी इलाके वारपोरा में आतंकवादियों के हमले में पुलिसकर्मी जावेद अहमद शहीद हो गए। सूत्रों के मुताबिक सेना, एसओजी और सीआरपीएफ की संयुक्त टीम ने जहूर ठोकर और कुछ और आतंकियों की सूचना पर ऑपरेशन शुरू किया।

जहूर ठोकर 173 टेरीटोरियल आर्मी का सदस्य था और 2016 में सर्विस रायफल के साथ फरार हो गया था। जानकारी के मुताबिक जब आतंकी का शव बरामद किया गया तो उसकी पहचान शब्बीर अहमद डार के रूप में हुई। सूत्रों के मुताबिक ठाकूर और बाकी आतंकी मौके से फरार हो गए हैं। पुलवामा के एसएसपी के मुताबिक मुठभेड़ में सुरक्षाबलों ने एक आतंकी को मार गिराया है। आतंकवादियों और सुरक्षाबलों के बीच मुठभेड़ शुक्रवार देर रात शुरू हुई है।

जानकारी हो कि आज(शनिवार) जम्मू-कश्मीर में निकाय और पंचायत चुनाव हो रहे हैं। आज तीसरे चरण के चुनाव के लिए वोट डाले जा रहे हैं। ऐसे में आतंकवादी सक्रिय हो गए हैं जिन्हें रोकने के लिए सुरक्षाबल मुस्तैद हैं।

इससे पहले सुरक्षाबलों ने कुपवाड़ा जिले के हंदवाड़ा इलाके में हिज्बुल मुजाहिदीन के कमांडर मन्नान बशीर वानी को मार गिराया था। मारा गया आतंकी मन्नान बशीर वानी जनवरी में आतंकवादी संगठन में शामिल हुआ था।वह अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी का पीएचडी छात्र था।

चुनाव से पहले सोपोर में पुलिसकर्मी की हत्या

वहीं बारामूला में भी शुक्रवार रात सोपोर के बाहरी इलाके वारपोरा में आतंकवादियों के हमले में पुलिसकर्मी जावेद अहमद शहीद हो गए। इलाके में सर्च ऑपरेशन जारी है। सोपोर नगर परिषद के लिए शनिवार को हो रहे मतदान से पूर्व शुक्रवार देर रात आतंकियों ने एक पुलिसकर्मी की उसके घर में घुसकर हत्या कर दी। अभी तक किसी आतंकी संगठन ने इसकी जिम्मेदारी नहीं ली है। सुरक्षाबलों ने आतंकियों की धरपकड़ के लिए पूरे क्षेत्र की घेराबंदी कर ली है।

गौरतलब है कि राज्य में निकाय चुनाव के बहिष्कार के लिए आतंकियों ने फरमान जारी कर रखा है। शनिवार 13 अक्टूबर को वादी के जिन 10 निकायों में मतदान हो रहे है,उनमें सोपोर भी शामिल है। सोपोर से मिली जानकारी के अनुसार रात करीब पौने ग्यारह बजे स्वचालित हथियारों से लैस आतंकियों का एक दल वारपोरा मुहल्ले में आया। आतंकियों ने पुलिस कर्मी जावेद अहमद लोन पुत्र अब्दुल खालिक लोन के मकान की निशानदेही की और जबरन भीतर दाखिल हो गए।

उन्होंने घर में मौजूद सभी लोगों को एक जगह जमा होने के लिए कहा और उसके बाद उन्होंने जावेद पर गोलियों की बौछार कर दी। उसके बाद आतंकी वहां से फरार हो गए। आतंकियों के जाने के बाद उसके परिजनों ने पुलिस को सूचित करते हुए जावेद को निकटवर्ती अस्पताल पहुंचाया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत लाया घोषित कर दिया।

एसएसपी सोपोर जावेद इकबाल ने बताया कि जावेद पुलिस विभाग में बतौर फालोअर नियुक्त था। वह जिला पुलिस लाइन में तैनात था। बीते कुछ दिनों से अवकाश पर घर गया था। फिलहाल, उसके हत्यारों को पकड़ने के लिए पुलिस और सेना के जवानों ने मिलकर तलाशी अभियान चला रखा है।

Posted By:

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020