भारतीय मौसम विभाग के मुताबिक अगले तीन-चार दिनों में उत्तर और पूर्वी भारत में भारी बारिश होने की संभावना है। विभाग के मुताबिक, उत्तर मध्य प्रदेश के ऊपर बना निम्न दबाव का क्षेत्र कमजोर हो गया है। लेकिन उससे जुड़ा चक्रवातीय सर्कुलेशन उत्तर-पश्चिम मध्य प्रदेश और आसपास के इलाकों में बना हुआ है। एक और चक्रवातीय सर्कुलेशन बंगाल की खाड़ी के उत्तर में बना हुआ है। इसके प्रभाव से 28 जुलाई के आसपास उत्तर बंगाल की खाड़ी और आसपास निम्न दबाव का क्षेत्र बनने की संभावना है। दोनों चक्रवातीय सर्कुलेशन के प्रभाव से 29 जुलाई तक जम्मू-कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़ और उत्तर प्रदेश में भारी से बहुत भारी बारिश होने की संभावना है। बाद में इसकी तीव्रता कम हो जाएगी।

जानिये कहां कितनी बारिश का अनुमान

- कोंकण, गोवा, मध्य महाराष्ट्र के घाट के इलाकों में अगले तीन दिनों के दौरान भारी बारिश होने की संभावना है। 29 जुलाई से इन इलाकों में बारिश की तीव्रता में वृद्धि होने का अनुमान है।

- 27 जुलाई और 28 जुलाई को हिमाचल प्रदेश व उत्तराखंड और 27 जुलाई को उत्तर-पश्चिम उत्तर प्रदेश में अत्यधिक भारी बारिश की संभावना है। जबकि पूर्वी राजस्थान और पश्चिम मध्य प्रदेश में 27 जुलाई से भारी बारिश में कमी आएगी।

- 27 जुलाई से ओडिशा, बंगाल के गंगा तटीय इलाकों और झारखंड समेत पूर्वी भारत और उससे लगे मध्य भारत के इलाकों में व्यापक बारिश और कुछ इलाकों में भारी से बहुत भारी बारिश होने की संभावना है।

Posted By: Navodit Saktawat