तिरुवनंतपुरम। अगस्त में दक्षिण पश्चिम मानसून का कहर झेल चुके केरल में फिर भारी बारिश होने का अनुमान व्यक्त किया गया है।

इस वजह से राज्य सरकार ने गुरुवार को आपदा से निपटने की तैयारियां शुरू कर दीं। मौसम विभाग ने पड़ोसी राज्य तमिलनाडु और पुडुचेरी में भी भारी बारिश की चेतावनी जारी की है।

भारतीय मौसम विभाग की ओर से जारी बुलेटिन के मुताबिक, दक्षिण पूर्व अरब सागर के ऊपर बने निम्न दबाव के क्षेत्र की वजह से सात अक्टूबर (रविवार) को केरल, तमिलनाडु और पुडुचेरी के ज्यादातर इलाकों में भारी से बहुत

भारी बारिश होने की संभावना है। निम्न दबाव का यह क्षेत्र चक्रवाती तूफान में तब्दील हो सकता है जिसकी वजह से कुछ इलाकों में बहुत ज्यादा बारिश होने की संभावना है।

मौसम विभाग के अनुमान के मद्देनजर केरल के इडुक्की और मलपपुरम जिलों में रेड अलर्ट जारी कर दिया गया है। आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के अधिकारियों ने गुरुवार को तैयारियों की समीक्षा की और अधिकारियों को बांधों के जलस्तर पर नजर रखने के निर्देश दिए।

त्रिशूर और पलक्कड़ जिलों में बांधों के द्वार खोल दिए गए हैं ताकि अतिरिक्त पानी निकाला जा सके। शनिवार से समुद्र में भी हालात खराब रहने की आशंका है, लिहाजा मछुआरों को गहरे समुद्र में नहीं जाने की चेतावनी दी गई है।

तमिलनाडु में जिला कलेक्टरों को सभी एहतियाती कार्रवाई करने के लिए कहा गया है। चेन्नई और पुडुचेरी में पिछले 24 घंटे से बारिश हो रही है। पुडुचेरी में तो गुरुवार को अधिकांश शिक्षण संस्थाएं बंद रहीं।

Posted By:

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020