लखनऊ। उप्र की रामपुर विस उपचुनाव के मतदान के दौरान सोमवार को हैरान करने वाली घटना सामने आई। यहां तीन महिला ब्लॉक लेवल अधिकारी (बीएलओ) चुनाव में धांधली करते हुए गिरफ्तार की गईं। इसी सीट के निर्दलीय प्रत्याशी जावेद के 20 चुनाव एजेंटों को भी हिरासत में लिया गया। गिरफ्तार बीएलओ के नाम-सीमा राठौर, ताजिया व मुमताज हैं। तीनों की ड्यूटी हादी जूनियर हाई स्कूल मतदान केंद्र पर लगाई गई थी। चुनावी पर्ची बांटने में धांधली के आरोप में उन्हें गिरफ्तार किया गया है। जिला कलेक्टर व निर्वाचन अधिकारी आंजनेय कुमार ने उक्त तीनों बीएलओ से कोतवाली में पूछताछ की। निर्दलीय जावेद के हिरासत में लिए गए 20 चुनावी एजेंटों से जब पूछताछ की गई तो वे सपा कार्यकर्ता निकले।

अलीगढ़ से भी तीन बीएलओ गिरफ्तार

उधर अलीगढ़ से भी एसडीएम ने धांधली के आरोप में तीन बीएलओ को गिरफ्तार किया है। ये भी मतदाता पर्ची का अवैध ढंग से वितरण कर रहे थे। हालांकि उन्हें पूछताछ के बाद छोड़ दिया गया। चार अनधिकृत चुनाव एजेंट अलीगढ़ के आजाद हिंद कॉलेज स्थित मतदान केंद्र में घुस गए थे। इन चारों को भी हिरासत लेकर पूछताछ की गई।

केरल में बोगस वोटिंग करते महिला गिरफ्तार

सोमवार को केरल की मंजेश्वरम विधानसभा सीट के उपचुनाव के दौरान पीठासीन अधिकारी ने एक महिला को बोगस वोटिंग करते गिरफ्तार कर लिया। महिला का नाम नबीसा है, वह इलाके की वोटर नहीं है। पीठासीन अधिकारी को जैसे ही उसके बारे में शंका हुई उन्होंने तत्काल पुलिस में शिकायत दर्ज करा दी। पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया।

यह भी पढ़ें : Exit Poll 2019 Explained : महाराष्‍ट्र में भाजपा-शिवसेना की बढ़ेंगी सीटें, हरियाणा में मतदान घटा पर BJP को सीटों का फायदा

Posted By: Navodit Saktawat