जम्मू। जम्मू कश्मीर में 35ए के मुद्दे पर एक मंच पर आने की तैयारी कर रहे कश्मीर केंद्रित दल नेशनल कांफ्रेंस और PDP मंगलवार को तीन तलाक को लेकर आमने-सामने आ गए हैं। इस बिल का विरोध कर रही PDP के सांसद राज्यसभा में इस बिल पर वोटिग के दौरान सदन से वॉकआउट कर गए। संसद के दोनों सदनों में तीन तलाक बिल पास हो गया।

ऐसे में नेकां के उपाध्यक्ष उमर अब्दुल्ला ने PDP प्रधान महबूबा मुफ्ती को घेरते हुए ट्विट पर लिखा है कि PDP की गैरमौजूदगी ने राज्यसभा में बिल पास कराने में सरकार की मदद की है। वहीं, दूसरी ओर महबूबा ने भी इस मुद्दे पर नेकां को घेरा।

उन्होंने उमर को याद दिलाया कि नेकां के सांसद सैफुद्दीन सोज ने 1999 में संसद में भाजपा के खिलाफ वोट डाला था। इसके लिए उन्हें पार्टी से निकाल दिया गया था। पलटवार करते हुए उमर ने लिखा है कि PDP अपनी कमी छिपाने के लिए 20 साल पुरानी घटना का हवाला दे रही है। ऐसा कर महबूबा मान रही हैं कि उन्होंने ही अपने सांसदों को संसद में वोटिग का बहिष्कार करने के लिए कहा था।

यह भी पढ़ें: तीन तलाक अब माना जाएगा अपराध, जानिए कानून की बड़ी बातें

यह भी पढ़ें: Triple Talaq Bill पर सोशल मीडिया रिएक्शन्स, यूजर्स बोले- मान गए

Posted By: Arvind Dubey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना