आजमगढ़। कानून बनने के बाद उप्र के आजमगढ़ जिले में तत्काल तीन तलाक का पहला मामला रविवार को सामने आया। खूबसूरत न होने का आरोप लगाते हुए एक युवक ने अपनी पत्नी को कोलकाता से फोन कर तत्काल तीन तलाक दे दिया। महिला की तहरीर पर रविवार को पुलिस ने आरोपित सबरे आलम को हिरासत में ले लिया। निजामाबाद कस्बा निवासी नसीम अहमद की पुत्री साजिया की शादी पांच वर्ष पूर्व निजामाबाद थाना क्षेत्र के वजीरमलपुर गांव निवासी सबरे आलम के साथ हुई थी। सबरे आलम कोलकाता में रहता है। उसकी तीन वर्ष की एक पुत्री है। महिला का आरोप है कि शादी के बाद से ही पति तरह-तरह का आरोप लगाकर उसे प्रताड़ित करता रहा। इधर, अक्सर ताना देता था कि वह खूबसूरत नहीं है, इसलिए वह उसके साथ नहीं रहना चाहता। तलाक के तीन दिन पूर्व ही फोन पर पति से उसका इसी बात को लेकर झगड़ा भी हुआ था। इसके बाद 17 अप्रैल को पति ने मोबाइल फोन पर तीन तलाक दे दिया। पति द्वारा तीन तलाक देने की बात उसने अपने मायके वालों को बताई। चार दिन बाद वह अपनी बेटी के साथ ससुराल से मायके आ गई। एक माह पूर्व उसका पति कोलकाता से वापस लौटकर आया। पति के आने की जानकारी जब उसे हुई तो महिला ने शनिवार को थाने में तहरीर दी। तहरीर देने के दूसरे दिन भी इस बाबत इंस्पेक्टर दिनेश सिह का कहना है कि मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी।

Posted By: Navodit Saktawat