Tripura: त्रिपुरा बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष डॉ. मानिक साहा प्रदेश अगले मुख्यमंत्री बन गए हैं। रविवार सुबह 11.30 बजे अगरतला में राजभवन में शपथ ग्रहण समारोह हुआ। इससे पहले शनिवार को बीजेपी विधायक दल की बैठक में उन्हें सर्वसम्मति से नेता चुना गया। बीजेपी ने भूपेंद्र यादव और विनोद तावड़े को बतौर केन्द्रीय पर्यवेक्षक नियुक्त किया था। इन्हीं की मौजूदगी में ये बैठक हुई। इससे पहले मौजूदा मुख्यमंत्री बिप्लब कुमार देव ने शनिवार की दोपहर राज्यपाल को अपना इस्तीफा सौंप दिया था। बीजेपी ने उसके बाद फौरन विधायक दल की बैठक बुलाई, जिसमें नए नेता का चुनाव हुआ। शनिवार देर शाम मानिक साहा ने राज्यपाल से मिलकर उन्हें विधायकों के समर्थन का पत्र सौंपा और सरकार बनाने का दावा पेश किया।

उधर, अगले विधानसभा चुनावों से करीब एक साल पहले बिप्लब कुमार देव के अचानक इस्तीफे की खबर ने राष्ट्रीय राजनीति में हलचल पैदा कर दी है। इस बारे में बिप्लव देव ने कहा कि मेरे लिए पार्टी सबसे ऊपर है और पार्टी का फैसला सर्वोपरि है। उन्होंने कहा कि मैंने संगठन हित में सीएम पद से इस्तीफा दिया है। अब पार्टी जो भी जिम्मेदारी देगी, मैं उसे निभाऊंगा। उन्होंने इस दौरान कहा कि उनकी पीएम मोदी से भी बात हुई है। आपको बता दें कि एक दिन पहले ही बिप्लव देव ने गृहमंत्री अमित शाह से मुलाकात की थी।

बिप्लब कुमार देव की छवि त्रिपुरा में बड़े बीजेपी नेता के तौर पर रही है। साल 2018 में हुए त्रिपुरा विधानसभा चुनाव में बिप्लब देब राज्य में बीजेपी का सबसे बड़े चेहरे थे और उन्होंने राज्य में 25 साल पुरानी लेफ्ट सरकार को हराकर बीजेपी को सत्ता दिलाई थी।

Posted By: Shailendra Kumar