भारत और चीन के बीच बढ़े तनाव के बीच सोशल मीडिया पर जम्मू कश्मीर और लद्दाख में एक बार फिर इंटरनेंट सेवाएं बंद किए जाने का मैसेज सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। इससे संबंधित एक ट्वीट जिसमें केंद्रीय गृह मंत्री का हवाला दिया हुआ है उसमें कहा गया है कि दोनों केंद्र शासित राज्यों में फिक्स्ड लाइन ब्रॉडबैंड और इंटरनेट को बंद करने का आदेश दिया गया है। इस मैसेज के वायरल होने के बाद सूबे के लोगों में घबराहट भी है। अब इसे लेकर प्रेस इन्फॉर्मेशन ब्यूरो (PIB) की ओर से सफाई दी गई है जिसमें कहा गया है कि गृह मंत्री की ओर से इस तरह का कोई ट्वीट नहीं किया गया है।

PIB ने बताई सच्चाई

प्रेस इन्फॉर्मेशन ब्यूरो (PIB) ने इस मैसेज की सच्चाई का फैक्ट चेक किया जिसके बाद उन्होंने पाया कि गृह मंत्री के ट्विटर हैंडल से जारी होना बताया जा रहा यह मैसेज फर्जी है। PIB ने कहा कि ऐसा कोई भी ट्वीट नहीं किया गया है।

अनुच्छेद 370 हटाने के बाद किया था बैन

केंद्र सरकार ने जम्मू कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 को हटाने और जम्मू कश्मीर से लद्दाख को अलग कर दोनों को केंद्र शासित राज्य बनाए जाने के बाद हिंसा भड़कने से रोकने के लिए कुछ वक्त के लिए दोनों राज्यों में इंटरनेट को बंद किया था। हालांकि दोनों ही जगहों पर हालात सामान्य होने के बाद ये सेवा दोबारा बहाल कर दी गई थी।

गौरतलब है कि पिछले कुछ वक्त में सरकार के आदेश के नाम पर सोशल मीडिया में कई बार झूठे मैसेज प्रचारित किए जाने की घटनाएं सामने आ चुकी हैं।

Posted By: Neeraj Vyas

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना