Udaipur Tailor Beheading। नूपुर शर्मा की पैगंबर मोहम्मद पर विवादित टिप्पणी के बाद भाजपा से निष्कासित नवीन जिंदल को भी जान से मारने की धमकी मिली है। नवीन जिंदल ने पुलिस से इस संबंध में शिकायत की है। नवीन जिंदल ने एक ट्वीट करते हुए कहा कि मैंने जान से मारने की धमकी के बारे में PCR को सूचित कर दिया है और डीसीपी पूर्वी दिल्ली, साइबर सेल और दिल्ली पुलिस आयुक्त को इसका तत्काल संज्ञान लेने को कहा है।

ईमेल से मिली जान से मारने की धमकी

नवीन जिंदल को कट्टरपंथियों ने ईमेल से जान से मारने की धमकी दी है। नवीन जिंदल ने सुबह ट्वीट कर बताया कि सुबह करीब 6:43 बजे मुझे 3 ईमेल मिले हैं, जिसमें उदयपुर में भाई कन्हैया लाल की गर्दन काटने का वीडियो संलग्न है, जिसमें मेरी और मेरे परिवार को भी इसी तरह मारने की धमकी दी गई है। मैंने PCR को सूचित कर दिया है।

उलेमा-ए-हिंद ने की कन्हैया की हत्या की आलोचना

वहीं दूसरी ओर जमीयत उलेमा-ए-हिंद ने उदयपुर में कन्हैयालाल की हत्या की कड़ी निंदा की है। मौलाना हकीमुद्दीन कासमी ने कहा है कि जिसने भी इस घटना को अंजाम दिया, उसे किसी भी तरह से जायज नहीं ठहराया जा सकता। यह भारत के कानून और इस्लाम के खिलाफ है।

जानें क्या है पूरा मामला

आपको बता दें कि राजस्थान के उदयपुर के धान मंडी थाना क्षेत्र में पेशे से टेलर कन्हैयालाल की मंगलवार को गला रेत कर बेरहमी से हत्या कर दी गई। पुलिस ने हत्या करने वाले दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। दोनों आरोपियों ने हत्या के पहले धमकी का भी वीडियो जारी किया था और नृशंस हत्या करते लाइन वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया। इस घटना के बाद उदयपुर के 7 थाना क्षेत्रों में अगले आदेश तक रात 8 बजे तक कर्फ्यू लगा दिया गया है। कानून-व्यवस्था बनाए रखने की दृष्टि से राज्य में अगले 24 घंटे के लिए इंटरनेट बंद करने सभी जिलों में धारा 144 लागू करने, सभी की छुट्टी रद्द कर दी गई है।

इधर कानपुर में बजरंग दल कार्यकर्ता को भी सिर काटने की धमकी

उदयपुर के अलावा कानपुर में भी एक बजरंग दल कार्यकर्ता को इस्लामिक कट्टरपंथियों ने सिर काटने की धमकी दी है। कानपुर के गुजैनी क्षेत्र के मदनपुर गांव में बजरंग दल के सदस्य ऋतिक कुमार वर्मा को स्थानीय इस्लामवादियों ने धमकी दी है। इस धमकी के बाद ऋतिक कुमार अपना घर छोड़कर कहीं और रहने के लिए मजबूर हो गए हैं। इस्लामिक कट्टरपंथियों ने ऋतिक को बजरंग दल के लिए काम छोड़ने की धमकी दी है। इस संबंध में ऋतिक वर्मा ने कानपुर के गुजैनी थाने में मामला दर्ज किया गया है और पुलिस आगे की जांच कर रही है। इन धमकियों के बाद ऋतिक कुमार वर्मा ने अपने घर के बाहर 'टू सेल' बोर्ड लगा दिया है और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मदद की गुहार लगा रहे हैं।

Posted By: Sandeep Chourey

  • Font Size
  • Close