Union Bank of India ने सोमवार को मार्जिनल कॉस्ट ऑफ लेंडिंग रेट (MCLR) में 15 बेसिस प्वाइंट तक कटौती की घोषणा की है। यह नई दर मंगलवार से लागू हो गई है। इसके अलावा इंडियन ओवरसीज बैंक और बैंक ऑफ महाराष्ट्र ने MCLR में कटौती की घोषणा की। इस वजह से अब पर्सनल, होम और ऑटो लोन की EMI सस्ती हो जाएगी।

Union Bank of India ने एक साल का MCLR 7.40 प्रतिशत से घटाकर 7.25 कर दिया। एक रात का लैंडिंग रेट 6.80 प्रतिशत है जबकि 3 महीने और 6 महीने के लिए इस ब्याज दर को रिवाइज कर क्रमश: 6.95 प्रतिशत और 7.10 प्रतिशत कर दिया गया है। जुलाई 2019 के बाद यूनियन बैंक ऑफ इंडिया द्वारा ब्याज दरों में कटौती का यह 14वीं बार ऐलान किया गया है।

Indian Overseas Bank ने भी अपने MCLR में 10 बेसिस प्वाइंट की घोषणा की। यह कटौती सोमवार से लागू हो गई। इंडियन ओवरसीज बैंक ने पिछले सप्ताह बताया था कि MCLR को 7.75 प्रतिशत से घटाकर 7.65 प्रतिशत कर दिया गया है। दो साल का MCLR भी अब 7.65 प्रतिशत हो गया है।

इसी तरह बैंक ऑफ महाराष्ट्र ने MCLR में भी 20 बेसिस प्वाइंट तक की कटौती की घोषणा की। इसे 7 अगस्त से ही लागू किया जा चुका है। एक साल के लिए MCLR अब 7.50 प्रतिशत से घटकर 7.40 कर दिया गया। इसी तरह एक रात के लिए इसे 7.0 से घटाकर 6.80 प्रतिशत कर दिया गया है।

Posted By: Kiran K Waikar

  • Font Size
  • Close