महाराष्ट्र में हरिहरेश्वर बीच पर एक अज्ञात नाव और रायगढ़ जिले के भारदखोल में एक लाइफबोट मिली। दोनों पर कोई मौजूद नहीं है। इनमें एक में दो से तीन एके 47 (AK-47) राइफल और कुछ जिंदा कारतूस मिले हैं। दूसरी नाव में लाइफ जैकेट्स तथा कुछ और संदिग्ध सामान मिला है। संदिग्ध नाव सुबह आठ बजे स्थानीय लोगों ने देखी। उन्होंने पुलिस को सूचित किया। स्थानीय तहसीलदार व पुलिस ने नाव के पास जाकर देखा तो उन्हें एक बाक्स में एके47 राइफलें और कुछ जिंदा कारतूस रखे दिखाई दिए।

नाव का पंजीकरण ब्रिटेन का बताया जा रहा है, जबकि नाव में रखे एके-47 के बाक्स पर ओमान की किसी कंपनी का नाम लिखा है। हालांकि महाराष्ट्र के उप मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने कहा है कि किसी आतंकी एंगल की पुष्टि नहीं हुई है। यहां नाव अभी-अभी चली है। हम किसी भी बात से इंकार नहीं कर रहे हैं, सभी पहलुओं की जांच कर रहे हैं। पुलिस को हाई अलर्ट पर रहने को कहा गया है।

पुलिस अनुमान लगा रही है कि भारतीय समुद्री सीमा के बाहर कहीं इस नाव को लंगर डालकर खड़ा किया गया होगा। जहां से मानसूनी हवाओं के कारण यह बहकर मुंबई के निकट आ गई है, लेकिन पुलिस नाव को लेकर किसी आतंकी साजिश से इनकार नहीं कर रही है। मुंबई और पड़ोसी रायगढ़ जिलों में हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है। पुलिस संदिग्ध नावों के बारे में और जानकारी जुटाने का प्रयास कर रही है। स्थानीय पुलिस के अनुसार तटरक्षक बल और महाराष्ट्र मैरीटाइम बोर्ड को इसकी सूचना दे दी गई है।

पुलिस विभाग आवश्यक कार्रवाई कर रहा है। हरिहरेश्वर बीच के पास एक संदिग्ध नाव मिलने के बाद रायगढ़ जिले और आसपास के इलाकों में सुरक्षा कड़ी कर दी गई है। पुलिस की जांच चल रही है। रायगढ़ के हरिहरेश्वर बीच पर मिली संदिग्ध नाव पर आधिकारिक सूत्र ने बताया कि नाव पर भी हथियार मिले हैं। महाराष्ट्र एटीएस की टीम रायगढ़ के लिए रवाना हो गई है, जहां हरिहरेश्वर बीच पर हथियारों के साथ एक संदिग्ध नाव मिली है।

अदिति तटकरे, श्रीवर्धन (रायगढ़) विधायक ने बताया कि प्राथमिक जानकारी के अनुसार रायगढ़ के श्रीवर्धन के हरिहरेश्वर और भारदखोल में हथियार और दस्तावेज वाली कुछ नावें मिली हैं। स्थानीय पुलिस कर रही है जांच, मैंने सीएम-डीई सीएम से मांग की है कि एटीएस या स्टेट एजेंसी की स्पेशल टीम तत्काल नियुक्त करें।

Posted By: Navodit Saktawat

  • Font Size
  • Close