नई दिल्ली। Unnao Victim : गुरुवार को जिंदा जलाई गई उन्नाव गैंगरेप की पीड़िता ने एक साल पहले पुलिस में दर्ज कराई अपनी शिकायत में दावा किया था कि मेरा दुष्कर्म करने के दौरान दो आरोपियों ने वीडियो भी बनाया था। इसके साथ ही उन्होंने सोशल मीडिया में इसे वायरल करने की धमकी भी दी थी। यह जानकारी उन्नाव पुलिस द्वारा 12 दिसंबर 2018 को किए गए दुष्कर्म के मामले में पुलिस की जांच का हिस्सा हैं। पीड़िता ने यह भी दावा किया कि मामले के मुख्य आरोपी शिवम त्रिवेदी ने कई बार उसके साथ दुष्कर्म किया।

साल 2018 में पीड़िता की शिकायत के अनुसार, बंदूक की नोंक पर शिवम त्रिवेदी और शुभम त्रिवेदी ने सामूहिक दुष्कर्म किया था। पीड़िता ने अपने बयान में कहा था कि दोनों लोग उसे उन्नाव के हिंदू नगर के एक मंदिर में यह वादा करके ले गए थे कि शिवम उसके साथ शादी करेगा। मगर, वहां जाकर उसके साथ दुष्कर्म की वारदात को अंजाम दिया गया। लड़की ने कहा कि वारदात के बाद उसने रायबरेली में अपनी चाची के घर में शरण ली।

मगर, किसी तरह से आरोपियों को उसकी चाची के घर का पता चल गया और उन्होंने धमकी दी कि अगर वह उनके सामने नहीं आती है, तो वे विडियो को सोशल मीडिया पर अपलोड कर देंगे। जब वह शिवम से मिलने गई, तो उसने उसे बंद कर दिया और उसकी गतिविधियों पर नजर रखने लगा। वह मुझे अलग-अलग कस्बों में ले जाता था और किसी दिन शादी करने के बहाने से दुष्कर्म करता था। उसने यह भी आरोप लगाया कि आरोपी ने सिविल कोर्ट में शादी के लिए हलफनामा बनवाया था, लेकिन वह रायबरेली से लड़की को लेकर उन्नाव में उसके घर पर छोड़ गया था। पीड़िता ने बयान में कहा कि वह लगातार मेरे वीडियो को सार्वजनिक करने और मेरे परिवार के सदस्यों को खत्म करने की धमकी देता था।

पीड़िता के बचने की उम्मीद कम

उधर, पीड़िता को गुरुवार की शाम को लखनऊ से दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में भर्ती करा दिया गया है। गंभीर हालत में एयरलिफ्ट कर पीड़िता को दिल्ली ले जाया गया था। अब अस्पताल ने बयान जारी कर रहा है कि पी‌ड़िता की हालत लगातार गिरती जा रही है और उसके बचने की उम्मीद बहुत कम है। उसकी बिगड़ती हालत को देखते हुए उसे अब वेंटीलेटर पर लिया गया है। बताया जा रहा है कि जलने की वजह से पीड़िता के कमर के निचले हिस्से को सबसे ज्यादा नुकसान पहुंचा है।

Posted By:

fantasy cricket
fantasy cricket