UP Block Pramukh Nomination 2021: उत्तर प्रदेश में गांव तथा जिले की सरकार चुने जाने के बाद अब ब्लॉक की सरकार के चयन की प्रक्रिया शुरू हो गई है। राज्य में गुरुवार को 11 बजे से तीन बजे तक नामांकन के बाद नामांकन पत्रों की जांच की गई। कई जगह पर हिंसा की वारदात के बीच पुलिस को बल का प्रयोग करना पड़ा। हरदोई में 19 में से भाजपा के आठ निर्विरोध ब्लॉक प्रमुख चुने गए हैं। कई इलाकों में बवाल के बीच दस जुलाई को 825 सीटों के लिए होने वाले चुनाव का नामांकन हो गया। प्रदेश के गोंडा के मुजेहना ब्लॉक को छोड़कर अन्य सभी 825 ब्लॉक पर 75845 बीडीसी मतदान करेंगे।

यूपी में ब्लॉक प्रमुख चुनाव के लिए नामांकन के दौरान कई स्थानों से हिंसा की घटनाओं को शासन ने गंभीरता से लिया है। एडीजी कानून व्यवस्था प्रशांत कुमार ने कहा है कि जहां भी हिंसा हुई है वहां एफआइआर दर्ज किया जाएगा। कई स्थानों पर नामांकन पत्र छीनने और मारपीट की घटना सामने आई हैं। गड़बड़ी करने वालों चिन्हित किया जा रहा है। इनके खिलाफ मुकदमा दर्ज कर सख्त कार्रवाई होगी।

उत्तर प्रदेश में ब्लॉक प्रमुख चुनाव के लिए गुरुवार को नामांकन के दौरान कन्रौज, सीतापुर, बुलंदशहर, पीलीभीत, झांसी, उन्नाव, अयोध्या, बस्ती, गोरखपुर, सम्भल, चित्रकूट, जालौन, फतेहपुर, एटा, अंबेडकरनगर, महराजगंज में खुलेआम फायरिंग व मारपीट हुई। हिंसा के बीच नामांकन प्रक्रिया सम्पन्न हो गई।

Posted By: Navodit Saktawat