Lucknow Building Collapse: लखनऊ के हजरतगंज क्षेत्र (Hazratganj) में एक रिहायशी बिल्डिंग ढह गई। इस हादसे में अह तक तीन लोगों के शव निकाले जा चुके हैं, जबकि कई लोगों के दबे होने की आशंका है। मौके पर पुलिस और फायर ब्रिगेड की टीमें पहुंच गई हैं और राहत एवं बचाव कार्य में जुटी हैं। लखनऊ डीजीपी डी.एस. चौहान ने बताया कि जिस समय बिल्डिंग गिरी, उस समय 8 परिवार बिल्डिंग के अंदर थे। लगभग 30-35 लोगों के अंदर होने की संभावना है। बता दें कि अलाया अपार्टमेंट वजीर हसनगंड रोड पर स्थित है। अब तक 9 लोगों को जीवित निकाला गया, जिन्हें अस्पताल भेजा गया है। इनमें से कुछ की हालत गंभीर है।

मौके पर पहुंची NDRF की टीमें

हादसे की जानकारी मिलते ही यूपी के उपमुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक मौके पर पहुंच गये और बचाव कार्य में तेजी लाने का निर्देश दिया। आशंका जताई जा रही है कि मलबे में 80-90 के करीब लोग दबे हैं। राहत एवं बचाव के लिए एनडीआरएफ औऱ एसडीआरएफ (NDRF & SDRF) की टीमें भी पहुंच गई हैं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने भी मामले का संज्ञान लिया और बचाव टीमों को रवाना करने का निर्देश दिया।

कैसे हुआ हादसा?

प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक, इमारत के ग्राउंड लेवल पर कुछ काम चल रहा था और इसी कारण ये इमारत गिर गई। वैसे ये इमारत काफी जर्जर भी बताई जा रही है। कुछ लोगों का दावा है कि करीब 50 परिवार यहां रह रहे थे, जिसमें 150 के करीब लोग हो सकते हैं। बताया जा रहा है कि सपा के एक बड़े नेता का परिवार भी ऊपरी मंजिल पर रहता था।

Posted By: Shailendra Kumar

  • Font Size
  • Close