Davender Singh: हिजबुल आतंकी की मदद करने के दौरान पकड़ाए जम्मू कश्मीर पुलिस के डीएसपी देविंदर सिंह की काली करतूतों की कहानी परत दर परत खुलती जा रही है। उससे अन्य मामलों में पूछताछ के लिए दिल्ली लाया जा रहा है। इस बीच अब जम्मू कश्मीर में रहने वाले एक पशु चिकित्सक ने देविंदर पर गंभीर आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि पैसों के लिए देविंदर सिंह ने उनके बेटे की हिरासत में हत्या कर दी। डॉक्टर मोहम्मद राफी बजाज ने यह आरोप लगाया है। उन्होंने कहा साल 2000 में उनके नाबालिग बेटे को सड़क से ही देविंदर ने उठाया और हिरासत में लेकर जमकर टॉर्चर किया और पैसे मांगे। इस दौरान उसके साथ इतनी बेरहमी से पिटाई की गई कि बेटे की हिरासत में ही मौत हो गई।

बेटे की मौत का झलका दर्द

डॉ. मोहम्मद राफी बजाज के बेटे एजाज अहमद बजाज की साल 2000 में मौत हो गई थी। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक मोहम्मद राफी का कहना है कि देविंदर ने उनके बेटे को बेवजह एक हफ्ते से ज्यादा वक्त तक हिरासत में रखकर टॉर्चर किया। उस वक्त बेटा गांधी मेमोरियल कॉलेज से बीएससी कर रहा था। देविंदर ने एजाज को श्रीनगर के पोशलाल बाजार से उठाया था। इसके बाद देविंदर ने बेटे को छोड़ने के लिए हमसे 40 हजार रुपए की मांग की थी।

हमने पैसों का इंतजाम किया और देविंदर को देने गए थे लेकिन इसके पहले ही उसके टॉर्चर की वजह से बेटे की मौत हो गई। बता दें कि देविंदर सिंह को 'टॉर्चर' सिंह के नाम से भी पहचाना जाता था।

हिजबुल आंतकियों के साथ हुआ था गिरफ्तार

जम्मू कश्मीर पुलिस में अलग पहचान बना चुका देविंदर सिंह देश से ही गद्दारी कर रहा था। हाल ही में वह हिजबुल मुजाहिदीन के दो आतंकियों के साथ गिरफ्तार हुआ था। उसकी गिरफ्तारी के बाद संसद हमले के मास्टरमाइंड अफजल गुरु की पत्नी ने भी दावा किया कि उसने अपने गहने बेचकर साल 2000 में देविंदर को एक लाख रुपए दिए थे।

Posted By: Neeraj Vyas

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020