Parliament Session । संसद के शीतकालीन सत्र के पहले केंद्र सरकार ने आज सर्वदलीय बैठक बुलाई थी, जिसमें 35 दलों के नेता शामिल हुए थे। बैठक के बाद कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खडगे ने कहा कि सर्वदलीय बैठक में कई मुद्दों पर चर्चा हुई और हमने कम से कम 13 मुद्दे सरकार के सामने रखे हैं। करीब 20 मुद्दे वहां पर आए हैं। कहा जा रहा है कि 32 बिल हैं जिसमें से सिर्फ 14 बिल तैयार हैं, लेकिन 14 बिल कौन से हैं ये उन्होंने नहीं बताया। साथ ही कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने बैठक में प्रधानमंत्री मोदी के नहीं आने पर भी सवाल उठाए।

वहीं संसदीय कार्य मंत्री प्रहलाद जोशी ने कहा कि हमने 45 राजनीतिक दलों को आमंत्रित किया था, जिनमें से 36 पार्टियों ने आज सर्वदलीय बैठक में हिस्सा लिया। 36 नेताओं ने अपने विचार रखे, सुझाव दिए और कुछ मुद्दों पर सरकार से चर्चा करने की मांग की है। सरकार संसद में किसी भी मुद्दे पर चर्चा के लिए तैयार है। केंद्रीय संसदीय कार्य मंत्री ने कहा कि सरकार ने मंगलवार (19 जुलाई) को श्रीलंका में मौजूदा संकट पर विदेश मंत्री डॉ. एस जयशंकर और केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के नेतृत्व में एक और सर्वदलीय बैठक बुलाई है।

उपराष्ट्रपति प्रत्याशी के लिए भी मंथन करेंगे विपक्षी दल

खबर है कि सर्वदलीय बैठक के बाद विपक्षी दल उप राष्ट्रपति पद के लिए साझा उम्मीदवार के लिए भी बैठक कर सकते हैं। उपराष्ट्रपति चुनाव के लिए भाजपा ने सहयोगी दलों के साथ विचार-विमर्श करने के बाद पश्चिम बंगाल के मौजूदा राज्यपाल जगदीप धनखड़ को उप राष्ट्रपति पद के लिए प्रत्याशी घोषित कर दिया है। इसके बाद विपक्षी दल भी एक्शन में आ गए हैं। उप राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार पर फैसला लेने के लिए विपक्षी दलों ने आज 17 जुलाई को एक बैठक बुलाई गई है।

कांग्रेस नहीं उतारेगी अपना प्रत्याशी

इस बीच कांग्रेस ने सभी विपक्षी दलों को सूचित कर दिया है कि उप राष्ट्रपति पद के लिए कांग्रेस अपना उम्मीदवार नहीं उतारेगी। कांग्रेस का कहना है कि वह फिलहाल पार्टी से इस पद के लिए किसी के नाम पर विचार नहीं किया जा रहा है। वहीं पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने उपराष्ट्रपति चुनाव पर चर्चा के लिए 21 जुलाई को तृणमूल कांग्रेस के सांसदों की बैठक बुलाई है।

6 अगस्त को होंगे उपराष्ट्रपति पद के लिए चुनाव

देश के उपराष्ट्रपति पद के लिए चुनाव 6 अगस्त को होगा। इसके लिए भाजपा के नेतृत्व वाले राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (MDA) ने जगदीप धनखड़ को उप राष्ट्रपति चुनाव के लिए अपना उम्मीदवार घोषित किया। भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने शनिवार को जगदीप धनखड़ के नाम का सार्वजनिक ऐलान करते हुए उन्हें किसान पुत्र बताया था।

दरअसल भाजपा की नजर राजस्थान में 2023 और हरियाणा में 2024 में होने वाले विधानसभा चुनाव पर है। जगदीप धनखड़ का जन्म राजस्थान के झुंझुनू जिले के किठाना गांव के किसान परिवार में हुआ था और जगदीप धनखड़ का किसानों के बीच काफी प्रभाव है। सुप्रीम कोर्ट के जाने-माने वकील और राजनेता रह चुके हैं। धनखड़ हरियाणा के किसान नेता के रूप में लोकप्रिय चौधरी देवी लाल के करीबी रहे हैं और अपने समय के अधिकांश जाट नेताओं की तरह धनखड़ मूल रूप से देवी लाल से जुड़े थे।

Posted By:

  • Font Size
  • Close