नई दिल्ली। 17वीं लोकसभा का पहला सत्र चल रहा है और मंगलवार को लगातार दूसरे दिन सदस्यों के शपथ-ग्रहण का दौर जारी रहा। शाम करीब 4 बजे मथुरा से भाजपा सांसद हेमा मालिनी ने शपथ ली। उन्होंने हिंदी में शपथ ली और आखिरी में कहा, 'राधे-राधे, कृष्णम वंदे, जगत गुरु'। (नीचे देखें वीडियो) बता दें, लोकसभा चुनाव 2019 में हेमा मालिनी ने मथुरा से करीब 2 लाख 93 हजार वोट से जीत दर्ज की थी। इस बार उन्हें चुनौती देने के लिए कांग्रेस ने महेश पाठक, राष्ट्रीय लोकदल ने कुंवर नरेंद्र सिंह को टिकट दिया था। इस सीट पर दूसरे चरण में 19 अप्रैल को वोटिंग हुई थी।

2014 लोकसभा चुनाव में मोदी लहर में हेमा मालिनी ने जयंत चौधरी को 3 लाख वोटों से हराया था। हेमा को 5,74,633 वोट मिले थे, जबकि जयंत चौधरी 2,43,890 पर ही थम गए थे। हेमा को इस बार भी प्रचंड जीत की उम्मीद थी।

हेमा मालिनी ने अपने ही अंदाज में यहां प्रचार किया था। उन्होंने रैलियों में अपने किए गए विकास कार्यों के साथ ही नरेंद्र मोदी का नाम लिया था। उनके पति धर्मेंद्र भी वोटर्स के बीच पहुंचे थे।

मथुरा लोकसभा सीट किसी पार्टी का गढ़ नहीं रही है। कई बार यहां निर्दलीय भी जीते हैं। 1952 में यहां पहला चुनाव हुआ था, तब राजा गिर्राजशरण सिंह ने जीत हासिल की थी। 1957 में भी निर्दलीय प्रत्याशी जीता।

इसके बाद यह सीट भाजपा या कांग्रेस के हाथों में आकर ठहर गई। 2009 को छोड़ दें तो यह सीट भाजपा या कांग्रेस के पास ही रही। 2009 में राष्‍ट्रीय लोकदल के जयंत चौधरी जीते थे, लेकिन 2014 में वो भी हेमा मालिनी से हार गए।

Posted By: Arvind Dubey

  • Font Size
  • Close