Viral Post: मेहनत और लगन हमेशा रंग लाती है। आंध्र प्रदेश के विशाखापत्तनम के एक लड़के ने इस बात को एक बार फिर सच साबित कर दिया है। डिलीवरी बॉय का काम करने वाले शेख अब्दुल सथर को अब एक कंपनी में सॉफ्टवेयर इंजीनियर के रूप में नौकरी मिल गई है। यह सब उनकी कड़ी मेहनत का फल है। यह खबर उनकी अविश्वसनीय यात्रा के बारे में है। हमें यकीन है कि शेख अब्दुल की कहानी जरूरी आपका मनोबल बढ़ाएगा।

लिंक्डइन पर शेयर की कहानी

शेख अब्दुल सथर ने अपनी कहानी लिंक्डइन प्रोफइल पर शेयर की। उन्होंने लिखा, 'मैं एक डिलीवरी बॉय हूं। जिसका एक सपना है। मैं जल्द से जल्द आर्थिक रूप से योगदान देना चाहता था। मेरे पिता एक संविदा कर्मचारी है। मैं शुरू में बहुत शर्मीला था, लेकिन डिलीवरी बॉय होने के नाते मैंने बहुत कुछ सीखा।'

दोस्त ने दी सलाह

सथर ने आगे लिखा कि एक दिन मुझे कोडिंग सीखने की सलाह मिली। मेरे दोस्त ने मुझे एक कोर्स के बारे में बताया। जोर देकर कहा कि मैं इससे जॉइन करूं। मैंने उसके सुझाव को गंभीरता से लिया। अपनी सुबह कोड सीखने में बिताई। शाम 6 बजे रात 12 बजे तक डिलीवरी की। मैंने उनसे जो पैसा कमाया उससे पॉकेट मनी के रूप में और परिवार की छोटी जरूरतों के लिए इस्तेमाल किया।

मिल गई सॉफ्टवेयर इंजीनियर की जॉब

शेख ने बताया, 'जल्द ही मैं अपने दम पर वेब एप्लिकेशन बनाने में सक्षम हो गया। मैंने कुछ प्रोजेक्ट किए। कंपनियों के लिए अप्लाई करना शुरू किया। इसके बाद मुझे आईटी कंपनी में सॉफ्टवेयर इंजीनियर की नौकरी मिल गई।' शेख अब्दुल का कहना है कि मुझे इस बात का गर्व है कि मैं अब इस स्थिति में आ गया हूं। अपनी सैलरी से माता-पिता का कर्ज उतार सकूंगा। उन्होंने जिनसे भी पैसा लिया है, जल्द लौटा पाऊंगा।

Posted By: Shailendra Kumar

  • Font Size
  • Close