नई दिल्ली। महाराष्ट्र और गुजरात समेत दक्षिण भारत के राज्यों में पिछले कुछ दिनों से लगातार हो रही बारिश से बाढ़ ने विकराल रूप ले लिया है। इन राज्यों में अब तक 70 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। लाखों लोग प्रभावित हुए हैं और हजारों लोगों को राहत शिविरों में रखा गया है। इसी बीच, मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने बताया कि पिछले दो दिनों में महाराष्ट्र, केरल और कर्नाटक में मूसलधार बारिश होने से हालात और खराब हुए हैं। विभाग ने अगले चौबीस घंटों में इन राज्यों के साथ ही गुजरात, पश्चिमी मध्य प्रदेश और पूर्वी राजस्थान में भारी बारिश की चेतावनी दी है।

राहुल ने मांगी पीएम मोदी से मदद

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को कांग्रेस नेता राहुल गांधी को केरल के बाढ़ प्रभावितों को हर संभव मदद का भरोसा दिलाया। राहुल गांधी ने अपने संसदीय क्षेत्र वायनाड समेत केरल के बाढ़ प्रभावित इलाकों के हालात को लेकर प्रधानमंत्री से बात की थी और मदद की मांग की थी। राहुल गांधी ने शुक्रवार को ट्वीट किया, 'पीएम मोदी ने आपदा के प्रभाव को कम करने के लिए किसी भी तरह की सहायता मुहैया कराने का भरोसा दिलाया है।'

कोच्चि एयरपोर्ट रविवार तक बंद : केरल में कोच्चि एयरपोर्ट को सुरक्षा कारणों से रविवार तक के लिए बंद कर दिया गया है। NDRF समेत सेना के तीनों अंगों को राहत और बचाव कार्य में लगाया गया है। केंद्र सरकार बाढ़ प्रभावित राज्यों के हालात पर नजर रखे हुए है। पीड़ित राज्यों को केंद्र ने हर संभव मदद का भरोसा दिलाया है।

कर्नाटक ने अलमाटी बांध से पानी छोड़ा : महाराष्ट्र के सांगली और कोल्हापुर जिलों को राहत देने के लिए कर्नाटक ने अलमाटी बांध से अब तक साढ़े चार लाख क्यूसेक पानी छोड़ा है। इससे इन दोनों जिलों में बाढ़ से कुछ राहत मिलने की उम्मीद है।

गुजरात ने बांध के फाटक खोले : गुजरात ने नर्मदा नदी पर बने सरदार सरोवर बांध के 30 में से 26 फाटकों को खोल दिया है। ऐसा बांध में ज्यादा पानी आने के चलते किया गया है। इस मौके पर गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपानी और उप मुख्यमंत्री नितिन पटेल भी मौजूद रहे।