Weather update: भारतीय मौसम विभाग IMD का कहना है कि मंगलवार यानी 4 अगस्त से अगले तीन-चार दिनों तक देश के मध्य और पश्चिमी हिस्सों में जमकर बरसात होगी। 4 अगस्त के करीब उत्तरी बंगाल की खाड़ी में हवा का दबाव कम होगा। इसीलिए मानसून थोड़ा दक्षिण की ओर रुख करेगा। ऐसा होने पर अगले तीन से चार दिनों तक बेहद तीव्र बरसात होगी। मानसून के दक्षिण-पश्चिम बहाव के चलते यह अरब अरब सागर और पश्चिमी तटों पर अधिक मजबूत होगा। बहुत बड़े इलाके में 3 अगस्त से 5 अगस्त के बीच तेज से अत्यधिक तेज वर्षा होगी। कोंकण, गोवा, मध्य महाराष्ट्र, पश्चिमी घाट के क्षेत्रों, तटीय कर्नाटक और केरल में जमकर बारिश होगी। मौसम विभाग ने चार अगस्त को तटीय महाराष्ट्र और गोवा के लिए रेड अलर्ट जारी किया है। मुंबई और सुदूर इलाकों में 4 और 5 अगस्त को तेज से अत्यधिक तेज बरसात की चेतावनी जारी की है। 5 अगस्त को गुजरात के तटीय जिलों में भी बेहद तेज बारिश होने की आशंका है। जबकि राज्य के बाकी इलाकों में 6 अगस्त को जमकर बरसात होगी। मौसम विभाग का कहना है कि ओडिशा, छत्तीसगढ़ और मध्य प्रदेश में भी चार और पांच अगस्त को सामान्य से कहीं अधिक बरसात होगी। झारखंड और पश्चिम बंगाल के गंगा क्षेत्र में भी यही हालात रहने की उम्मीद है।अभी तक हुई बारिश अनियमित एवं अनिश्चित रही है। जानिये देश भर में कहां कैसा मौसम रहेगा।

यह है मौसम का पूर्वानुमान

स्‍कायमेट वेदर के अनुसार, गुजरात के उत्तर-पूर्वी हिस्सों साबरकांठा, बनासकांठा, पाटन, दीसा, इडार, मेहसाना और पालनपुर समेत कई इलाकों में जहां अब तक बारिश बहुत कम हुई है, 5 से 7 अगस्त के बीच मूसलाधार बारिश हो सकती है। मुंबई और मराठवाड़ा सहित गुजरात, दक्षिण और दक्षिण पूर्व राजस्थान, और मध्‍य प्रदेश में हल्‍की बारिश हो सकती है। इसके अलावा दिल्ली, हरियाणा और पंजाब लगभग सूखा रहेगा।

किस राज्‍य के किस शहर में बारिश की संभावना

- मध्‍य प्रदेश के अशोकनगर, बड़वानी, भोपाल, छिंदवाड़ा, दमोह, गुना, होशंगाबाद, इंदौर, जबलपुर, कटनी, खंडवा, खरगोन, मंडला, पन्ना, रायसेन, राजगढ़, सागर, उज्जैन, विदिशा में बारिश हो सकती है।

- उत्‍तर प्रदेश के अमेठी, आजमगढ़, बहराइच, बलिया, बलरामपुर, बारा बांकी, बस्ती, चंदौली, देवरिया, फैजाबाद, गाजीपुर, गाजीपुर, गोरखपुर, जौनपुर कुशीनगर, लक्सर, महराजगंज, मऊ, प्रतापगढ़, रायबरेली, संत कबीर नगर, श्रावस्ती, सिद्धार्थनगर, सिद्धार्थनगर, सीतापुर, वाराणसी और सुल्तानपुर में अगले 6-8 घंटों के दौरान तेज हवाओं के साथ हल्की बूंदाबांदी हो सकती है।

- पंजाब के बरनाला, फतेहगढ़ साहिब, होशियारपुर, जालंधर, कपूरथला, लुधियाना, मोगा, पटियाला, रूपनगर, संगरूर और शहीद भगत सिंह नगर आदि जिलों में तेज हवाओं (30-40 किमी प्रति घंटे) के साथ बारिश और गरज के साथ छींटे पड़ सकते हैं।

- बिहार के मुंगेर, मुजफ्फरपुर, नालंदा, नवादा, चंपारण, # पन्ना, रोहतास, सहरसा, समस्तीपुर, सारण, शेखपुरा, सीतामढ़ी, सीतामढ़ी, सीतामढ़ी, सीतामढ़ी, वैशाली, अरवल, औरंगाबाद, बेगूसराय, भागलपुर, भोजपुर, दरभंगा, गया, गोपालगंज, जमुई, जहानाबाद, कैमूर, लखीसराय, लखीसराय, लखीसराय, मदुरई में तेज हवाओं और गरज के साथ बारिश संभव है।

- हरियाणा के भिवानी, चरखी दादरी, फतेहाबाद, हिसार, झज्जर, जींद, कैथल, कुरुक्षेत्र, महेंद्रगढ़, रेवाड़ी जिलों में बारिश होगी।

मानसून का वर्तमान सिस्‍टम

मानसून के वर्तमान संभावित सिस्टम के पीछे ही एक और मौसमी सिस्टम बंगाल की खाड़ी पर विकसित हो सकता, जो पहले सिस्टम के रास्ते ही आगे पश्चिमी तथा उत्तर-पश्चिमी दिशा में बढ़ेगा। इसलिए कह सकते हैं कि 7 अगस्त के बाद भी बारिश में लंबा गैप नहीं होगा। इस संभावित निम्न दबाव या डिप्रेशन के ओडिशा से जमीनी भागों पर पहुंचने की संभावना है। इसके बाद यह पश्चिमी तथा उत्तर-पश्चिमी दिशा में आगे बढ़ते हुए छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र और गुजरात को प्रभावित कर सकता है। यह सिस्टम 4 अगस्त को बंगाल की खाड़ी के उत्तरी मध्य भागों तक पहुंच सकता है। संभावना है कि मॉनसून के आगमन के बाद बंगाल की खाड़ी में यह अब तक का सबसे प्रभावी सिस्टम होगा।

Posted By: Navodit Saktawat

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

Ram Mandir Bhumi Pujan
Ram Mandir Bhumi Pujan