Weather Update: मौसम विभाग ने बुधवार को कहा कि अगले 48 घंटों में दक्षिण-पश्चिम मानसून दक्षिण-पूर्व अरब सागर के कुछ हिस्सों, मालदीव और कोमोरिन क्षेत्र, दक्षिण और पूर्व-मध्य बंगाल की खाड़ी और उत्तर-पूर्व बंगाल की खाड़ी के कुछ हिस्सों पर आगे बढ़ने की संभावना है। आईएमडी ने कहा, 'अगले पांच दिनों में देश में भीषण गर्मी की संभावना नहीं है।'

इन राज्यों में बारिश की संभावना

मौसम विभाग ने अगले 5 दिनों में बिहार, झारखंड, ओडिशा, पश्चिम बंगाल और सिक्किम में हल्की से मध्यम बारिश और अलग-अलग जगहों पर छिटपुट बारिश का अनुमान जताया है। 29 मई को अरुणाचल प्रदेश, नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा में और 26 से 29 मई को असम और मेघालय में भारी बारिश की संभावना है। आईएमडी ने आगे कहा, 'केरल के साथ माहे और लक्षद्वीप में गरज के साथ हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है। अगले पांच दिनों में आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, कर्नाटक और तमिलनाडु में हल्की वर्षा हो सकती है।' इस बीच प्री-मानसून बाढ़ ने देश के बड़े हिस्से और बांग्लादेश को प्रभावित किया है। अधिकारियों ने कहा कि कम से कम 24 लोगों की मौत हुई। लाखों लोगों को सुरक्षित स्थानों पर भेज दिया गया है।

असम में भारी बारिश से 26 की मौत

आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के मुख्य कार्यकारी अधिकारी ज्ञानेंद्र देव त्रिपाठी ने कहा कि राज्य में आई भारी बारिश की वजह से 5.8 लाख लोग प्रभावित हुए। प्रभावित लोगों के लिए 345 राहत शिविर लगाए। जिनमें 82 हजार लोग रह रहे हैं। 6 अप्रैल से अबतक 26 लोगों की मौत हुई है।

कई जगहों पर तापमान 50 डिग्री तक पहुंचा

भारत में इस महीने अधिकांश समय भीषण गर्मी की चपेट में था। कई प्रदेशों में अधिकतम तापमान 50 डिग्री सेल्सियस के करीब था। दिल्ली के मुंगेशपुर स्टेशन में 16 मई को तापमान 49.2 डिग्री दर्ज किया गया। बीते दिनों वर्ल्ड वेदर एट्रिब्यूशन ग्रुप के वैज्ञानिकों ने कहा, 'उनके द्वारा समीक्षा किए गए डेटा से पता चलता है कि जलवायु परिवर्तन से गर्मी की लहर अधिक होने की संभावना है। यह भविष्य की एक झलक है।'

Posted By: Arvind Dubey

  • Font Size
  • Close