Weather Update । देश के कई राज्यों में मानसून सक्रिय हो चुका है और भारी बारिश के कारण जनजीवन अस्त व्यस्त हो रहा है। मौसम विभाग ने गोवा, महाराष्ट्र और कर्नाटक के कई जिलों में भारी बारिश के चेतावनी देते हुए रेड अलर्ट जारी किया है। मौसम विभाग की ओर से दी गई जानकारी के मुताबिक केरल के कन्नूर में भारी बारिश के चलते कई घर क्षतिग्रस्त हुए। वहीं महाराष्ट्र के रायगढ़, रत्नागिरी और सिंधुदुर्ग में 9 जुलाई तक रेड अलर्ट जारी किया गया है और पालघर, पुणे, कोल्हापुर और सतारा में 8 जुलाई तक रेड अलर्ट जारी किया गया है। मुंबई और ठाणे में 10 जुलाई तक ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है। इसके अलावा देहरादून स्थित मौसम विज्ञान केंद्र ने कहा है कि हरिद्वार, देहरादून, टिहरी, पौड़ी, नैनीताल और अल्मोड़ा ज़िलों में आंधी के साथ तेज बारिश होने की संभावना है। ऐसे में पर्यटकों सो सावधान रहने की जरूरत है।

बीते 24 घंटे में इन राज्यों में मानसून मेहरबान

मानसून के प्रवेश के बाद कई राज्यों में लगातार बारिश के कारण बाढ़ जैसे हालात बन गए हैं। बीते 24 घंटे के मौसम की बात की जाए तो गुजरात तट और कोंकण और गोवा में मानसून जबरदस्त रहा। वहीं मुंबई और इसके आसपास के इलाकों व गुजरात और कोंकण और गोवा के तटीय क्षेत्रों में मध्यम से भारी बारिश हुई। उत्तरी पंजाब, उत्तरी हरियाणा, मध्य और पश्चिमी राजस्थान, उत्तरी मध्य प्रदेश में भी हल्की बारिश दर्ज की गई।

इन राज्यों में हो सकती है अच्छी बारिश

मौसम विभाग ने कहा है कि दिल्ली, पश्चिम उत्तर प्रदेश, झारखंड, गंगीय पश्चिम बंगाल, तमिलनाडु और राजस्थान के बाकी हिस्सों में हल्की बारिश की संभावना है। आईएमडी ने अगले दो दिनों के लिए दक्षिण कोंकण, गोवा और दक्षिण मध्य महाराष्ट्र के लिए 'रेड अलर्ट' और उत्तरी मध्य महाराष्ट्र, पूर्व विदर्भ और पश्चिम विदर्भ के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। मौसम विभाग ने सतारा जिले के लिए 6 से 8 जुलाई और कोल्हापुर जिले के लिए 7 से 9 जुलाई तक रेड अलर्ट जारी किया गया है। पश्चिम उत्तर प्रदेश में 8 व 9 जुलाई को, पूर्वी राजस्थान में 6 व 10 जुलाई को तथा पश्चिमी राजस्थान में 07, 08 व 10 जुलाई को बारिश हो सकती है।

वहीं स्काईमेट वेदर ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि मध्य प्रदेश के पूर्व और पश्चिम में अच्छी बारिश की उम्मीद है। 6 जुलाई से एक हफ्ते तक बारिश की गतिविधि की उम्मीद है। कुछ इलाकों में भारी बारिश के साथ बाढ़ की भी संभावना है।

Posted By: Sandeep Chourey

  • Font Size
  • Close