Bhawanipur By-Election : चुनाव आयोग (Election Commission) ने पश्चिम बंगाल में भवानीपुर उपचुनाव को लेकर बीजेपी और टीएमसी कार्यकर्ताओं के बीच झड़प को लेकर राज्य सरकार से रिपोर्ट मांगी है। बीजेपी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष दिलीप घोष (Dilip Ghosh) ने TMC पर उन्हें मारने की साजिश रचने का आरोप लगाया है। बीजेपी नेता के मुताबिक भवानीपुर में चुनाव प्रचार के दौरान TMC कार्यकर्ताओं ने उन्हें गालियां दी। बाद में जब वे एक वैक्सीनेशन सेंटर पर लोगों से मिलने पहुंचे, तो उनके साथ धक्का-मुक्की की गई। इसमें बीजेपी युवा मोर्चा के दक्षिण कोलकाता के अध्यक्ष मुंकुद झा घायल हो गये हैं। बता दें कि भवानीपुर सहित तीन विधानसभा क्षेत्रों में उपचुनाव को लेकर आज अंतिम प्रचार का दिन है। प्रचार के अंतिम दिन बीजेपी (BJP) ने यहां ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) के खिलाफ अपने 80 नेताओं को मैदान में उतारा था।

ये घटना भवानीपुर इलाके में जादूबाबर बाजार (जादू बाबू का बाजार) के पास हुई जहां तृणमूल समर्थकों ने घोष का रास्ता रोक दिया और उन्हें सड़क के किनारे धकेल दिया। समर्थकों ने बीजेपी के जय श्री राम का मुकाबला करने के लिए ममता बनर्जी द्वारा गढ़ा गया एक नारा जॉय बांग्ला देना शुरू कर दिया और वापस जाने के लिए चिल्लाने लगे। इस दौरान घोष के निजी सुरक्षा गार्डो और तृणमूल कांग्रेस के समर्थकों के बीच हाथापाई हुई और भीड़ को तितर-बितर करने के लिए पहरेदारों को बंदूक तानते देखा गया। बाद में सुरक्षाकर्मियों ने घोष को घेर लिया और वहां से ले जाया गया। हाथापाई में एक बीजेपी समर्थक घायल हो गया।

लगातार हो रही हैं हिंसक झड़पें

बीजेपी और टीएमसी कार्यकर्ताओं के बीच बैरकपुर में भी झड़प हुई है। मिली जानकारी के मुताबिक बीजेपी के सांसद और बंगाल बीजेपी के उपाध्यक्ष अर्जुन सिंह के नेतृत्व में जदूबाजार बीजेपी की स्ट्रीट कॉर्नर मीटिंग हो रही थी। उसी समय टीएमसी के कुछ कार्यकर्ताओं ने आकर मीटिंग में बाधा देने की कोशिश की। आरोप है कि टीएमसी समर्थकों ने बीजेपी कार्यकर्ताओं के साथ मारपीट की, जिसमें बीजेपी का एक कार्यकर्ता घायल हो गया। उसे एसएसकेएम अस्पताल में भर्ती कराया गया है। बीजेपी की विधायक अग्निमित्रा पॉल ने आरोप लगाया कि कोलकाता में एक उपचुनाव प्रचार के दौरान कथित झड़प में कई BJP कार्यकर्ता घायल हो गए। सीएम ममता बनर्जी हमें प्रचार करने की अनुमति नहीं दे रही है। टीएमसी के गुंडे हमारे कार्यकर्ताओं को प्रताड़ित कर रहे हैं।

Posted By: Shailendra Kumar