ट्रेन में हुई मामूली कहासुनी के बीच विवाद इतना बढ़ गया कि एक दर्जन यात्रियों ने युवक को इतना पीटा की उसकी मौत हो गई। इस मारपीट में 7 महिलाएं भी शामिल थीं। घटना मुंबई-लातूर-बिडर एक्सप्रेस में गुरुवार को हुई। विवाद की शुरुआत सीट को लेकर हुई थी। देखते ही देखते नोकझोक बड़े विवाद में बदल गई जिसका हश्र 26 साल के युवक की मौत के रुप में सामने आया। मृतक युवक की पत्नी ज्योति ने इसकी शिकायत पुलिस में की। उसने बताया कि उसका पति सागर मरकाड, उसकी सास और दो बेटियों के साथ वह पुणे स्टेशन से ट्रेन की जनरल बोगी में बैठे थे।

ज्योति ने बताया कि वह परिवार के साथ रिश्तेदारी में हुए गमी के कार्यक्रम में शामिल होने जा रहे थे। पूर्व में परिवार करजत से दादर-चेन्नई एक्सप्रेस में बैठा था लेकिन जब उन्हें पता लगा कि ट्रेन उनके गंतव्य पर नहीं रुकेगी तो उन्होंने पुणे स्टेशन पर ट्रेन बदली थी।

मृतक की पत्नी की ओर से की गई शिकायत में कहा गया है कि ट्रेन का जनरल कोच पूरी तरह से भरा हुआ था और वहां बैठने की जगह नहीं थी। इस दौरान सागर ने वहां बैठी कुछ महिलाओं से पत्नी ज्योति के लिए थोड़ी जगह देने को कहा। इस पर महिलाओं ने जगह देने से मना कर दिया और सागर से बहस करने लगीं।

थोड़ी देर बाद ही बातचीत विवाद में बदल गई और महिलाओं के साथ मौजूद आदमियों ने सागर को डंडों से पीटना शुरू कर दिया। ज्योति इस दौरान मदद के लिए चिल्लाई लेकिन ट्रेन में मौजूद किसी भी शख्स ने मदद नहीं की। जब तक सागर बेहोश नहीं हुआ तब तक किसी ने कुछ नहीं कहा।

ट्रेन जब डुंड जंक्शन पर पहुंची तो ज्योति ने रेलवे पुलिस की मदद ली। इसके बाद सागर को तत्काल नजदीकी अस्पताल पहुंचाया गया जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। रेलवे पुलिस ने इस मामले में 12 लोगों को हिरासत में ले लिया है। इसमें 7 महिलाएं भी शामिल हैं।

Posted By: Neeraj Vyas

fantasy cricket
fantasy cricket