श्रीनगर। शनिवार को घाटी में जम्मू-कश्मीर लिबरेशन फ्रंट (जेकेएलएफ) के चेयरमैन मुहम्मद यासीन मलिक के साथ स्वामी अग्निवेश ने प्रस्तावित कॉलोनी के खिलाफ 30 घंटे का अनशन शुरू किया। दोपहर बाद नारबल (श्रीनगर) जाने का प्रयास कर रहे मलिक और अग्निवेश को पुलिस ने पकड़कर थाने में बंद कर दिया, लेकिन शाम को उन्हें रिहा कर दिया गया।

मलिक अपने 30 समर्थकों के साथ सुबह श्रीनगर के मैसूमा में जेकेएलएफ मुख्यालय के बाहर अनशन पर बैठे। स्वामी अग्निवेश व अन्य लोग भी इसमें दोपहर को शामिल हुए। जेकेएलएफ चेयरमैन ने पत्रकारों को संबोधित करते हुए कहा कि हम कश्मीरी पंडितों की वापसी के हक में हैं, लेकिन उनकी वापसी के नाम पर किसी भी तरह की कॉलोनी नहीं बनने देंगे।

उन्होंने कहा कि हमारा यह अनशन राज्य व केंद्र सरकार की साजिश के खिलाफ है। उन्होंने कहा कि हम इस्रायल जैसे हालात यहां नहीं चाहते। कश्मीरी पंडित आएं और अपने पुश्तैनी घरों में अपने मुस्लिम भाइयों के बीच वैसे ही रहें, जैसे पहले रहते थे। सभी उनकी हिफाजत करेंगे।

वहीं स्वामी अग्निवेश ने कहा कि कश्मीरी पंडितों की वापसी के नाम पर अलग कॉलोनी बनाने का मतलब कश्मीर में कश्मीरी पंडितों और कश्मीरी मुस्लिमों को मजहब के नाम पर बांटना है। यह कश्मीर की मिलीजुली संस्कृति को समाप्त करने की साजिश है। कश्मीरी पंडित और कश्मीरी मुस्लिम एक ही सभ्यता का अंग हैं।

इस बीच, नारबल में एक किशोर की प्रदर्शन के दौरान गोली लगने से मौत हो गई थी। मलिक ने नाबालिग की मौत की निंदा की और कहा कि यह कश्मीर में जारी मानवाधिकारों के हनन का स्पष्ट सुबूत है। इसके बाद उन्होंने अनशन स्थल से नारबल की तरफ जाने का प्रयास किया। उनके साथ स्वामी अग्निवेश व अन्य लोग भी थे।

जुलूस में शामिल अन्य लोग देश विरोधी नारेबाजी भी करने लगे, लेकिन दशनामी अखाड़ा के पास पुलिस ने उन्हें रोक लिया। मलिक ने जब इसका प्रतिरोध किया तो पुलिस ने उन्हें स्वामी अग्निवेश समेत आठ लोगों को हिरासत में लेकर निकटवर्ती थाने में बंद कर दिया। बाद में उन्हें छोड़ दिया गया।

Posted By:

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस