पर्यटन क्षेत्र को हर मदद का आश्वासन देते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि पांच लाख विदेशी पर्यटकों को मुफ्त वीजा दिया जाएगा। पर्यटन क्षेत्र से जुड़े साझेदारों को सौ फीसद सरकारी गारंटी के साथ 10 लाख रुपये तक के लोन का इंतजाम किया गया है। शुक्रवार को हुए रिकार्ड वैक्सीनेशन पर कांग्रेस नेताओं की प्रतिक्रिया पर भी उन्होंने तंज करते हुए कहा कि इससे एक राजनीतिक दल को बुखार आ गया। हालांकि उन्होंने आगाह किया कि अभी सतर्क रहने की जरूरत है। वायरस अभी गया नहीं है। उन्होंने भरोसा दिलाया कि केंद्र सरकार पर्यटन को गति देने के लिए हर मोड़ पर खड़ी होगी। कोरोना की तीसरी लहर की कम होती आशंका और वैक्सीनेशन में रिकार्ड तोड़ तेजी के बीच अब सरकार पर्यटन व्यवसाय को आगे बढ़ाने की तैयारी में जुट गई है। उन्‍होंने कहा, कुछ महीने पहले तक वैक्सीनेशन बहुत बड़ा राजनीतिक मुद्दा बना हुआ था।

एक तरफ जहां विपक्षी दल सरकार को कठघरे में खड़ा कर रहे थे, वहीं कई राज्य अपने खर्च पर वैक्सीन देने का वादा भी कर रहे थे और केंद्र सरकार से बार-बार गुहार भी लगा रहे थे कि वह वैक्सीनेशन का भार उठाए। अब जबकि भारत विश्व में सबसे अधिक और सबसे तेज गति से वैक्सीन देने वाला देश बन गया है तो विपक्षी दलों में चुप्पी है। हालांकि प्रधानमंत्री मोदी की जन्मतिथि पर जब एक दिन मे ढाई करोड़ डोज लगी तो राहुल गांधी और पी चिदंबरम चुप नहीं रहे। राहुल ने कहा कि वैक्सीनेशन की यही रफ्तार देश को चाहिए।

Posted By: Navodit Saktawat