देश में कोरोना संक्रमण की तीसरी लहर की आशंकाओं के बीच दिल्ली एम्स के निदेशक रणदीप गुलेरिया ने स्कूलों को जल्द से जल्द खोलने की वकालत की है। उन्होंने जोर देकर कहा कि विद्यालयों की पढ़ाई ज्यादा उपयोगी होती हैं, क्योंकि वे व्यक्तित्व के विकास में मदद करते हैं। स्कूल में छात्रों और अन्य गतिविधियों के बीच बातचीत होती है, जो बच्चों के चरित्र के विकास के मामले में बहुत मदद करती है। हमें ऐसी रणनीतियों पर फोकस करना चाहिए जिससे स्कूल खुल सकें।

उन्होंने कहा कि ''मुझे व्यक्तिगत रूप से लगता है कि हमें स्कूल खोलने पर काम करना चाहिए। क्योंकि, इसने युवा पीढ़ी को ज्ञान के मामले में वास्तव में प्रभावित किया है और विशेष रूप से हाशिए के लोग जो ऑनलाइन कक्षाओं के लिए नहीं जा सकते हैं, वे पीड़ित हैं।"

एम्स के निदेशक डॉ रणदीप गुलेरिया से बुधवार को यह पूछे जाने पर कि ''बच्चों के लिए वैक्सीन कब मिलने की उम्मीद है?'' उन्होंने कहा कि बच्चों को आमतौर पर हल्की बीमारी होती है. लेकिन, हमें बच्चों के लिए वैक्सीन विकसित करने की जरूरत है. क्योंकि, अगर हमें इस महामारी को नियंत्रित करना है, तो सभी को वैक्सीन लगाया जाना चाहिए। साथ ही उन्होंने कहा कि ''एक उम्मीद है कि परीक्षण जल्दी पूरा हो जायेगा और संभवत: सितंबर-अक्तूबर तक हमारे पास वैक्सीन होंगे, जो हम बच्चों को दे सकते हैं।

उन्होंने कहा कि फाइजर को पहले ही बच्चों के लिए एफडीए की मंजूरी मिल चुकी है और उसे हमारे देश में आने की भी अनुमति मिल गयी है। भारत बायोटेक और अन्य कंपनियां भी इस दिशा में बहुत तेज गति से परीक्षण कर रही हैं। क्योंकि, माता-पिता अपने बच्चों के साथ परीक्षणों के लिए आगे आये हैं।

वैसे विशेषज्ञों ने कोरोना संक्रमण की तीसरी लहर में बच्चों के सबसे ज्यादा प्रभावित होने की आशंका जतायी है। इसकी वजह ये है कि देश में कोरोना संक्रमण की तीसरी लहर आने तक अधिकतर वयस्कों को वैक्सीन की खुराक दी जा चुकी होगी, लेकिन बच्चों को वैक्सीन नहीं मिली होगी। ऐसे में उनमें संक्रमण का खतरा बढ़ सकता है।

Posted By: Shailendra Kumar

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags